NDTV Khabar

पीएम मोदी के 'बेल गाड़ी' वाले बयान पर कांग्रेस का पलटवार- सत्ता में आये तो BJP के भ्रष्ट नेता जेल में होंगे, बेल पर नहीं

आरपीएन सिंह ने दावा किया कि प्रधानमंत्री की रैली के लिए सरकार के करोड़ों रुपये खर्च किए गए और किसानों को इसमें शामिल होने से रोका गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएम मोदी के 'बेल गाड़ी' वाले बयान पर कांग्रेस का पलटवार- सत्ता में आये तो BJP के भ्रष्ट नेता जेल में होंगे, बेल पर नहीं

पीएम मोदी ने जयपुर की रैली में तंज कसा- कांग्रेस पार्टी को इन दिनों 'बेल गाड़ी' के नाम से पुकारने लगे हैं

खास बातें

  1. पीएम मोदी ने जयपुर में कांग्रेस पर कसा तंज
  2. कांग्रेस को अब 'बेल गाड़ी' कहा जाता है
  3. कांग्रेस का भी तगड़ा पलटवार
नई दिल्ली: कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बीजेपी के 'भ्रष्ट' मुख्यमंत्रियों और नेताओं को बचाने का आरोप लगाते हुये कहा है कि जब वह सत्ता में आयेगी तो इन सब मामलों की जांच कराकर सबको जेल भेजा जायेगा कोई भी बेल पर बाहर नहीं आयेगा. कांग्रेस प्रवक्ता आरपीएन सिंह ने कहा, 'सरकार आने पर भ्रष्टाचार में शामिल भाजपा के लोग 'बेल पर नहीं, बल्कि जेल में होंगे.’  पार्टी प्रवक्ता आरपीएन सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘जीएसपीसी (गुजरात स्टेट पेट्रोलियम कारपोरेशन) में हजारों करोड़ रुपये के घोटाले की बात आई. अमित शाह के पुत्र ने क्या किया, वह सबको पता है. इस सरकार के कई मंत्रियों के बारे में हमने भ्रष्टाचार का खुलासा किया. किसी के खिलाफ भी प्रधानमंत्री ने जांच तक नहीं कराई.’ उन्होंने कहा, ‘‘जिस दिन हमारी सरकार आएगी भ्रष्टाचार के इन सभी मामलों की जांच कराई जाएगी. उसके बाद जो भ्रष्ट मिलेंगे वो बेल पर नहीं रहेंगे बल्कि जेल में होंगे.’’ 

पीएम मोदी ने जयपुर में कहा- कांग्रेस को लोग अब 'बेलगाड़ी' कहने लगे हैं, उनके तमाम नेता बेल पर बाहर हैं

सिंह ने दावा किया कि पिछले चार सालों में प्रधानमंत्री मोदी ने किसानों को ‘ट्रैक्टर से बैलगाड़ी’ पर लाने का काम किया है. दरअसल, इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर तीखा प्रहार करते हुए जयपुर में आयोजित रैली में कहा था कि लोग कांग्रेस पार्टी को इन दिनों 'बेल गाड़ी' के नाम से पुकारने लगे हैं क्योंकि वर्तमान समय में कांग्रेस के कई दिग्गज नेता और पूर्व मंत्री जमानत (बेल) पर बाहर हैं. 

टिप्पणियां
मिशन 2019 इंट्रो : पीएम मोदी बोले - देशहित में नहीं है महागठबंधन​

आरपीएन सिंह ने दावा किया कि प्रधानमंत्री की रैली के लिए सरकार के करोड़ों रुपये खर्च किए गए और किसानों को इसमें शामिल होने से रोका गया.प्रधानमंत्री की ओर से कुछ विकास परियोजनाओं की घोषणा किए जाने के संदर्भ में सिंह ने कहा, ‘‘चुनाव से कुछ महीने पहले ही उन्हें राजस्थान की समस्याओं की याद आई है. उन्होंने कई योजनाओं का ऐलान किया, लेकिन उनको पूरा करने की तारीख नहीं बताई.’’ 


इनपुट : भाषा से भी


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement