Coronavirus की चपेट में आया परिवार, राजस्थान सरकार ने घर के 1 किमी के दायरे में लगाया कर्फ्यू

राजस्थान (Rajasthan) की बात करें तो यहां झुंझुनू में एक दंपति और उनकी दो साल की बेटी की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. राज्य सरकार ने एहतियात बरतते हुए उनके घर के एक किलोमीटर के दायरे में कर्फ्यू लगा दिया है.

Coronavirus की चपेट में आया परिवार, राजस्थान सरकार ने घर के 1 किमी के दायरे में लगाया कर्फ्यू

जांच में दंपति और उनकी बेटी में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • इटली से लौटा था राजस्थान का झुंझुनू निवासी परिवार
  • जांच में दंपति और उनकी बेटी में वायरस की पुष्टि
  • कोरोना वायरस से दुनियाभर में 7000 से ज्यादा मौत
जयपुर:

दुनियाभर में कोरोना वायरस ( Coronavirus) के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं. अभी तक 7000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. एक लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हैं. इस महामारी के खौफ से इतर उम्मीद जगाती खबरें भी मिल रही हैं. चीन, इटली, भारत समेत कई देशों में लोग इस बीमारी को मात भी दे रहे हैं. हालांकि यह आंकड़ा कम है. भारत में 151 लोग अभी तक इस बीमारी की चपेट में आ चुके हैं. तीन लोगों की मौत हो चुकी है. 14 मरीज ठीक भी हुए हैं. राजस्थान (Rajasthan) की बात करें तो यहां झुंझुनू में एक दंपति और उनकी दो साल की बेटी की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. राज्य सरकार ने एहतियात बरतते हुए उनके घर के एक किलोमीटर के दायरे में कर्फ्यू लगा दिया है.

कोरोना वायरस की चपेट में आया यह परिवार बीते 8 मार्च को इटली से लौटा था. वहां से लौटते ही सरकार ने उनकी जांच के लिए सैंपल लिए और टेस्ट के लिए जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल भिजवाया. जांच में उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई. राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर रघु शर्मा ने कहा कि परिवार को इलाज के लिए जयपुर लाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि जो भी लोग परिवार के संपर्क में आया था, उन सभी की स्क्रीनिंग की जाएगी.

बंगाल में कोरोना का मामला सामने आने के बाद ममता की सख्ती- 'VIP होने का दावा कर नहीं बच सकते जांच से...'

बता दें कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने हाल ही में कोरोना वायरस से निपटने के लिए एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई थी. मीटिंग में उन्होंने वायरस को फैलने से रोकने के लिए अधिकारियों को सभी तरह के एहतियात बरतने के निर्देश दिए. मुख्यमंत्री ने सभी स्कूलों में पैरेंट्स-टीचर्स मीटिंग और प्रवेश प्रक्रिया पर 31 मार्च तक रोक के आदेश दिए हैं. सीएम ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वह लाउडस्पीकर के जरिए लोगों को धार्मिक जगहों या पब्लिक प्लेस पर जमा न होने की अपील करें. उन्होंने राज्य की सभी प्राइवेट और सरकारी लाइब्रेरीज़ को भी बंद करने के आदेश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए हैं कि जयपुर के अलावा अजमेर, कोटा, भरतपुर और झुंझुनू में भी टेस्ट कराए जाने की सुविधा उपलब्ध की जाए.

VIDEO: सिटी सेंटर : कोरोना को लेकर राज्यों को एडवाइजरी जारी, ऑनलाइन शिक्षा पर जोर



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com