NDTV Khabar

देश अब कोई और बंटवारा नहीं झेल सकता : सलमान खुर्शीद

पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा- जम्मू-कश्मीर के बिना भारत की संकल्पना अधूरी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
देश अब कोई और बंटवारा नहीं झेल सकता : सलमान खुर्शीद

पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद का कहना है कि देश अब और बंटवारा नहीं झेल सकता.

खास बातें

  1. ‘कश्मीर क्यों जल रहा है?’ विषय पर हुई परिचर्चा आयोजित
  2. खुर्शीद बोले- भारत की संकल्पना में जम्मू-कश्मीर अनिवार्य रूप से शामिल
  3. रॉ के पूर्व प्रमुख ने ‘कश्मीरी उपराष्ट्रवाद’ संकल्पना को लेकर आगाह किया
नई दिल्ली:

पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने शनिवार को कहा कि अगर जम्मू-कश्मीर को अलग कर दिया जाए तो भारत की संकल्पना अधूरी रह जाएगी. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि देश 1947 के बाद अब कोई और बंटवारा नहीं झेल सकता. वे यहां एक परिचर्चा में बोल रहे थे. इस परिचर्चा का विषय था ‘कश्मीर क्यों जल रहा है?’

खुर्शीद ने कहा, ‘‘भारत कोई एक भूखंड कम और एक संकल्पना ज्यादा है. इस संकल्पना में जम्मू-कश्मीर अनिवार्य रूप से शामिल है. जम्मू-कश्मीर के बिना भारत का मतलब यह है कि हमें भारत को किसी स्वरूप में फिर से परिभाषित करना होगा. परंतु अगर कश्मीर अलग कर दिया जाए तो भारत की संकल्पना अधूरी होगी.’’

यह भी पढ़ें : देश का बंटवारा चाहते हैं पीएम मोदी, भाजपा का मतलब 'भारत जलाव पार्टी' : लालू प्रसाद यादव

रॉ के पूर्व प्रमुख एसएस दुलत ने खुर्शीद से सहमति जताई और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वतंत्रता दिवस के भाषण का हवाला दिया जिसमें मोदी ने कहा था कि कश्मीर समस्या का समाधान गाली और गोली से नहीं, बल्कि वहां के लोगों को गले लगाने से होगा. दुलत ने ‘कश्मीरी उप राष्ट्रवाद’ की संकल्पना को लेकर भी आगाह किया.


टिप्पणियां

VIDEO : बंटवारे का दर्द


खुर्शीद ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘यह सोचना अतार्किक और अदूरदर्शी है कि भारत की शुरुआत किसी एक सदी से होती है और किसी एक सदी में खत्म हो जाती है तथा फिर कुछ समय के बाद इसकी दोबारा शुरुआत होती है.’’
(इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement