Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

Delhi Polls 2020: 'शाहीन बाग' को चुनावी हथियार बनाने के लिए BJP ने बनाया यह प्लान

बीच बीजेपी ने शाहीन बाग (Shaheen Bagh) को 'चुनावी मुद्दा' बनाने की घोषणा की है. भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने 'शाहीन बाग में कौन किधर' अभियान शुरू किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Delhi Polls 2020: 'शाहीन बाग' को चुनावी हथियार बनाने के लिए BJP ने बनाया यह प्लान

अमित शाह और जेपी नड्डा ने बीजेपी की तरफ से संभाली है दिल्ली चुनाव की कमान.

खास बातें

  1. शाहीन बाग को BJP ने दिल्ली में चुनावी मुद्दा बनाया
  2. BJP ने 'शाहीन बाग में कौन किधर' अभियान शुरू किया
  3. अमित शाह और जेपी नड्डा ने संभाली दिल्ली चुनाव की कमान
नई दिल्ली:

दिल्ली में विधानसभा चुनाव (Delhi Polls 2020) जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं, इसकी सरगर्मियां भी तेज होती जा रही हैं. सत्ताधारी पार्टी और विपक्षी दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जारी है. सभी पार्टियां पूरे दमखम के साथ चुनावी मुद्दों को भुनाने में जुटी हैं. सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (AAP), बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) वोटरों को लुभाने की पुरजोर कोशिश कर रही हैं. इस बीच बीजेपी ने शाहीन बाग (Shaheen Bagh) को 'चुनावी मुद्दा' बनाने की घोषणा की है. भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने 'शाहीन बाग में कौन किधर' अभियान शुरू किया है. भारतीय जनता पार्टी के एक नेता ने बताया कि इस दौरान बीजेपी आम आदमी पार्टी (AAP) और कांग्रेस और लोगों से पूछेगी कि वे शाहीन बाग के समर्थन में हैं या विरोध में? गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने दिल्ली चुनाव (Delhi Election) की कमान संभाली हुई हैं. बीजेपी एक फ़रवरी से अपने 200 सांसदों को चुनाव में लगाएगी. हर विधानसभा क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी 3 सांसदों को तैनात करेगी. इसके अलावा 2 फ़रवरी से अमित शाह के नेतृत्व में डोर टू डोर कैंपेन भी चलाया जाएगा. सभी केन्द्रीय मंत्री और  BJP के मुख्यमंत्री और बड़े-बड़े नेता कैंपेन में शामिल होंगे.

अरविंद केजरीवाल का BJP पर पलटवार- अमित शाह शाहीन बाग जाएं और रास्ते खुलवाएं


अमित शाह (Amit Shah) चुनावी यात्रा में जगह-जगह शाहीन बाग का ज़िक्र करने से नहीं चूकते. दूसरी तरफ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शाहीन बाग में नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन को लेकर बीजेपी पर 'गंदी राजनीति' करने का आरोप भी लगाया. केजरीवाल ने ट्वीट किया, 'शाहीन बाग में बंद रास्ते की वजह से लोगों को परेशानी हो रही है. भाजपा नहीं चाहती कि रास्ते खुलें. भाजपा गंदी राजनीति कर रही है. भाजपा के नेताओं को तुरंत शाहीन बाग (Shaheen Bagh) जाकर बात करनी चाहिए और रास्ता खुलवाना चाहिए.


जेपी नड्डा ने केजरीवाल से पूछा- भारत को तोड़ने की चाह रखने वालों का समर्थन क्यों, वोट बैंक खोने का डर?

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा कि गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) और दूसरे मंत्रियों को शाहीन बाग जाना चाहिए और लोगों से बातचीत कर रास्ता खुलवाना चाहिए. अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'मुझे बेहद दुख है कि जिस तरह से भारतीय जनता पार्टी (BJP) इस मुद्दे पर गंदी राजनीति कर रही है. वहां पर शाहीन बाग में रास्ता बंद है, उस बंद रास्ते की वजह से बहुत सारे लोगों को तकलीफ हो रही है, स्कूल के बच्चों को तकलीफ हो रही है, एंबुलेंस के जाने में तकलीफ हो रही है, जो आधा घंटे या 40 मिनट का रास्ता होता था, उसमें लोगों को ढाई से तीन घंटे लग रहे हैं. मैं इस बारे में कई बार कह चुका हूं कि इस देश के अंदर संविधान के तहत हर किसी को विरोध प्रदर्शन का अधिकार है लेकिन उस विरोध प्रदर्शन की वजह से आम जनता को तकलीफ नहीं होनी चाहिए.'

Delhi Elections 2020: रैली में बोले अमित शाह- बटन इतने गुस्से से दबाना कि करंट शाहीन बाग में लगे

टिप्पणियां

केजरीवाल ने कहा, 'भारतीय जनता पार्टी की सरकार जिसके तहत लॉ एंड ऑर्डर आता है, वह इसका समाधान क्यों नहीं कर रही है? अभी रविशंकर प्रसाद जी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे, इतने में वह शाहीन बाग हो आते. दिल्ली की लॉ एंड ऑर्डर की समस्या प्रेस कॉन्फ्रेंस करके नहीं सुधरेगी, काम करने से सुधरेगी. हम से सीखो काम कैसे करते हैं. काम करना हमको आता है. इनको केवल प्रेस कॉन्फ्रेंस और गंदी राजनीति करनी आती है. आज लिख कर ले लो यह 8 फरवरी तक रास्ते नहीं खुलने वाले 9 फरवरी को खुल जाएंगे. शाहीन बाग के रास्ते भारतीय जनता पार्टी खोलना ही नहीं चाहती.' 

VIDEO: अमित शाह शाहीन बाग जाएं और रास्ते खुलवाएं: अरविंद केजरीवाल



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... BJP नेताओं पर कार्रवाई न करने पर दिल्ली पुलिस को फटकारने वाले जज का ट्रांसफर, कांग्रेस ने मोदी सरकार से पूछे 3 सवाल

Advertisement