दिल्ली हिंसा: दूध लेने गया था बेटा, उपद्रवियों ने घर में लगाई आग, 85 साल की बुजुर्ग मां की जलकर हुई मौत

उत्तरपूर्वी दिल्ली के दंगाग्रस्त इलाकों में हिंसा की छिटपुट घटनाएं दर्ज की गई. जाफराबाद, मौजपुर, चांदबाग, गोकुलपुरी और आसपास के इलाकों में शांति रही लेकिन खौफ और दहशत का माहौल अभी बना हुआ.

नई दिल्ली:

उत्तरपूर्वी दिल्ली के दंगाग्रस्त इलाकों में हिंसा की छिटपुट घटनाएं दर्ज की गई. जाफराबाद, मौजपुर, चांदबाग, गोकुलपुरी और आसपास के इलाकों में शांति रही लेकिन खौफ और दहशत का माहौल अभी बना हुआ. बृहस्पतिवार को मरने वाले लोगों की संख्या 34 पर पहुंच गई. ज्यादातर दुकानें बंद रही और उनके दरवाजों पर हिंसा के निशान साफ देखे जा सकते हैं जिसने पिछले कुछ दिनों से लोगों को खौफजदा कर दिया है. हिंसा की घटनाओं में एक घटना ऐसी भी थी, जहां घर जलाने पर एक बुजुर्ग महिला की जलकर मौत हो गई. 

दिल्ली हिंसा : AAP पार्षद Tahir Hussain की छत से मिले पत्थर और पेट्रोल बम, देखिए VIDEO

मंगलवार को भजनपुरा के गामड़ी गांव में 85 साल की एक महिला अकबरी की जलकर मौत हो गई. घर से अभी भी धुआं निकल रहा है. उनके बेटे सैयद सलमानी से बात करने पर उन्होंने पूरी आपबीती बताई. सलमानी से बातचीत के दौरान वह बीच-बीच में रोने लगते हैं. इस दौरान उन्होंने बताया कि भीड़ घर तोड़कर अंदर आ गई और आग लगा दी जिसमें उनकी मां की जलकर मौत हो गई. भीड़ उनके घर में घुस आई थी पहले सबकुछ तोड़ा फिर पूरे घर को आग के हवाले कर दिया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अमेरिका पहुंचकर मेलानिया ट्रंप ने शेयर किया खूबसूरत ताजमहल का Video, कहा, "Breathtaking"

घर में आग लगने के दौरान सलमानी मदद के लिए आवाज़ देते रहे. गौरतलब है कि सुबह करीब 11 बजे हिंसा और आगज़नी हुई और बुजुर्ग महिला का शव रात में 9 बजे निकाला जा सका. सलमानी आपबीती बताते हुए भावुक हो जाते हैं. वह कहते हैं कि वो सड़क पर बस देख रहे थे और लोग उन्हें अंदर नहीं जाने दे रहे थे. इस दौरान वो कुछ नहीं कर पाए. उन्होंने बताया कि बच्चे उन्हें अंदर से बचाने के लिए फ़ोन कर रहे थे, लेकिन वह दूध लेने गए थे और बचाने के लिए जब वह वापस लौटे तो लोगों ने अंदर नहीं जाने दिया कहा कि अंदर जाओगे को दंगाई तुम्हें भी मार देंगे. बाद में उन्होंने कहा कि मैंने अपनी मां को खोया है कोई और अपने परिवार में दंगे में न खोए हिंदू मुसलमान एक होकर रहे हैं.