Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने खारिज की हिंसा से निपटने के लिए पर्याप्त सुरक्षाबल नहीं मिलने की खबर, कहा- उपद्रवियों को बख्शा नहीं जाएगा...'

दिल्ली के पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने उन खबरों को खारिज कर दिया कि हिंसा इसलिए फैली, क्योंकि उन्हें पर्याप्त बल नहीं मिला. अमूल्य पटनायक ने न्यूज एजेंसी ANI से कहा कि एमएचए लगातार हमारा सहयोग कर रही है और हमारे पास पर्याप्त पुलिस बल है.

दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने खारिज की हिंसा से निपटने के लिए पर्याप्त सुरक्षाबल नहीं मिलने की खबर, कहा- उपद्रवियों को बख्शा नहीं जाएगा...'

पुलिस और रैपिड एक्शन फोर्स ने दिल्ली के खजूरी खास इलाके में फ्लैग मार्च किया.

खास बातें

  • पुलिस कमिश्नर ने खारिज की पर्याप्त सुरक्षाबल नहीं मिलने की खबर
  • अमूल्य पटनायक बोले- MHA से पर्याप्त सुरक्षाबल मुहैया कराया गया
  • 'उपद्रवियों से निपटने के लिए हमारे पर पर्याप्त पुलिस बल है'
नई दिल्ली:

दिल्ली के पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने उन खबरों को खारिज कर दिया कि हिंसा इसलिए फैली, क्योंकि उन्हें पर्याप्त बल नहीं मिला. अमूल्य पटनायक ने न्यूज एजेंसी ANI से कहा कि एमएचए लगातार हमारा सहयोग कर रही है और हमारे पास पर्याप्त पुलिस बल है. उन्होंने कहा किसी न्यूज एजेंसी के हवाले से ऐसी खबरें चल रहीं थीं कि मीटिंग के दौरान गृह मंत्रालय को दिल्ली पुलिस की तरफ से बताया गया था कि पर्याप्त सुरक्षाबलों की कमी के कारण हिंसा बढ़ी. उन्होंने इन खबरों को पूरी तरफ से खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि उपद्रवियों को बख्शा नहीं जाएगा, उनके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी. उपद्रवियों से निपटने के लिए हमारे पर पर्याप्त पुलिस बल है. बता दें कि उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में हो रहे हिंसक विरोध प्रदर्शन में अबतक 13 लोगों की मौत हो गई है. जबकि 130 से अधिक लोग घायल हैं. घायलो में लगभग आधे लोगों को गोली लगी है. 


हालांकि एसी खबरें आने के कुछ घंटे बाद दिल्ली पुलिस के पीआरओ मंदीप सिंह रंधावा ने कहा कि गृह मंत्रालय की किसी भी बैठक में दिल्ली पुलिस के अधिकारियों द्वारा यह नहीं कहा गया कि 'हमारे पास पर्याप्त बल नहीं है.' उन्होंने कहा, 'जमीन पर हमारे पर्याप्त बल तैनात हैं और हमें अतिरिक्त बल भी मुहैया कराए गए हैं.' दिल्ली पुलिस हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में अपने सशस्त्र पुलिस की एक बटालियन (करीब 1000 कर्मी) भी तैनात कर रही है.
 

orq2sa4k

उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में आगजनी हुई.
 

IPS एसएन श्रीवास्तव दिल्ली पुलिस के विशेष आयुक्त नियुक्त
राष्ट्रीय राजधानी में हिंसा पर नियंत्रण के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मंगलवार रात आईपीएस अधिकारी एसएन श्रीवास्तव को सीआरपीएफ से वापस बुलाकर दिल्ली पुलिस का विशेष आयुक्त (कानून-व्यवस्था) नियुक्त किया. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. श्रीवास्तव एजीएमयूटी कैडर के 1985 बैच के अधिकारी हैं, जिनके 29 फरवरी को अमूल्य पटनायक के विस्तारित कार्यकाल के खत्म होने के बाद दिल्ली पुलिस के नए प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने की संभावना है. दिल्ली सरकार के गृह विभाग द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया है कि अधिकारी को दिल्ली पुलिस के इस पद पर 'तत्काल प्रभाव' से नियुक्त किया जा रहा है. 
 

vavc3nv


दिल्ली से लगती सीमाओं पर सुरक्षा बढ़ाई गई
उत्तर प्रदेश में पुलिस ने गाजियाबाद और नोएडा में उन सीमाओं पर सुरक्षा और गश्त बढ़ा दी है जो दिल्ली से लगती हैं. दिल्ली में पिछले दो दिनों के दौरान संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर हुई हिंसा में 13 लोगों की मौत हो गई है. यह जानकारी अधिकारियों ने मंगलवार को दी. नोएडा पुलिस ने कहा कि वह 'हाई अलर्ट' पर है और जिले में धारा 144 लागू है जो एक स्थान पर चार या उससे अधिक लोगों के एकत्रित होने पर रोक लगाती है. इसके साथ ही पीएसी कर्मियों को बड़ी संख्या में लगाया गया है. 

VIDEO: दिल्ली में CAA के मुद्दे पर जारी हिंसा के बीच पुलिस ने की शांति की अपील

(इनपुट: ANI और भाषा से भी)