NDTV Khabar

बिगड़ी अर्थव्यवस्था सरकार की चिंता का सबब, पीएम मोदी आज अर्थशास्त्रियों से करेंगे चर्चा

बजट से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विशेषज्ञों के साथ महत्वपूर्ण बैठक, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पांच जुलाई को बजट पेश करेंगी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिगड़ी अर्थव्यवस्था सरकार की चिंता का सबब, पीएम मोदी आज अर्थशास्त्रियों से करेंगे चर्चा

पीएम नरेंद्र मोदी शनिवार को देश की आर्थिक वृद्धि को लेकर अर्थशास्त्रियों और विशेषज्ञों से बातचीत करेंगे.

खास बातें

  1. हाल में जारी किए गए हैं जीडीपी वृद्धि के आंकड़े
  2. चौथी तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर घटकर 5.8 प्रतिशत रही
  3. बेरोजगारी 45 साल के उच्च स्तर 6.1 प्रतिशत पर पहुंच गई
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आर्थिक वृद्धि को गति देने तथा रोजगार सृजन के लिए आर्थिक नीति की रूपरेखा पर चर्चा के लिए प्रमुख अर्थशास्त्रियों तथा विशेषज्ञों के साथ शनिवार को बैठक करेंगे.

सूत्रों के अनुसार बैठक का आयोजन नीति आयोग कर रहा है. इसमें विभिन्न मंत्रियों, नीति आयोग के अधिकारी, प्रमुख अर्थशास्त्री, क्षेत्र के विशेषज्ञ और उद्योगपति शामिल होंगे. यह बैठक हाल में जारी जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) वृद्धि के आंकड़े जारी होने के बाद हो रही है.

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) के आंकड़े के अनुसार कृषि और विनिर्माण क्षेत्रों के कमजोर प्रदर्शन के कारण 2018-19 की चौथी तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर घटकर 5.8 प्रतिशत रही जो पांच साल का न्यूनतम स्तर है. कमजोर आर्थिक वृद्धि दर के कारण भारत इस मामले में चीन से पीछे हो गया है.    

वृद्धि दर के 2011-17 के आंकड़े 2.5 % बढ़ा-चढ़ाकर आंके गए : पूर्व आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन


सीएसओ के आंकड़े में यह भी कहा गया है कि 2017-18 में बेरोजगारी 45 साल के उच्च स्तर 6.1 प्रतिशत पर पहुंच गई. वित्त वर्ष 2018-19 में आर्थिक वृद्धि दर (2011-12 की कीमतों पर) भी पांच साल के न्यूनतम स्तर 6.8 प्रतिशत रही. इससे पिछले वित्त वर्ष 2017-18 में यह 7.2 प्रतिशत थी.    

GDP के आकड़ों पर पूर्व आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन के लेख के बाद सरकार की तरफ से आया यह Reaction

बैठक इस लिहाज से भी महत्वपूर्ण है कि यह बजट से पहले हो रही है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पांच जुलाई को बजट पेश करेंगी.

चीन से पिछड़ा भारत, छिन गया रुतबा; जीडीपी विकास दर पांच साल के सबसे निचले स्तर पर

VIDEO : 2011-12 से 2016-17 के बीच विकास दर 4.5% न कि 7% : अरविंद सुब्रह्मण्यन

टिप्पणियां

( इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement