डॉक्टर्स किसी प्रकार की अफवाह में न पड़े, COVAXIN पूरी तरह सुरक्षित : डॉ. हर्षवर्धन

दिल्ली सरकार के 75 केंद्रों में सीरम इंस्टीट्यूट में 'Covishield' और केंद्र सरकार के 6 केंद्रों में भारत बॉयोटेक की 'Covaxin' लगाई गई, लेकिन केंद्र सरकार के डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल (RML) के डॉक्टरों के संघ ने COVAXIN लगवाने को लेकर अपनी आशंका व्यक्त की.

डॉक्टर्स किसी प्रकार की अफवाह में न पड़े, COVAXIN पूरी तरह सुरक्षित : डॉ. हर्षवर्धन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन - फाइल फोटो

नई दिल्ली:

शनिवार को देश भर कोरोना का टीकाकरण किया गया. दिल्ली के 81 केंद्रों में कोरोना की वैक्सीन लगाई गईं, जिसमें दिल्ली सरकार के 75 केंद्रों में सीरम इंस्टीट्यूट में 'Covishield' और केंद्र सरकार के 6 केंद्रों में भारत बॉयोटेक की 'Covaxin' लगाई गई, लेकिन केंद्र सरकार के डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल (RML) के डॉक्टरों के संघ ने COVAXIN लगवाने को लेकर अपनी आशंका व्यक्त की.

दिल्ली में केंद्र सरकार के RML अस्पताल के डॉक्टरों ने अपने मेडिकल सुप्रीटेंडेंट को पत्र लिखा है. RML के डॉक्टरों ने कहा कि हम भारत बॉयोटेक की COVAXIN को लेकर संशय में हैं. COVAXIN के तीनों ट्रायल अभी पूरे नहीं हुए हैं. हमें सीरम इंस्टीट्यूट की COVISHIELD लगाई जाए.

RDA RML के उपाध्यक्ष डॉ निर्मल्या मोहापात्रा ने कहा, ''हमें इसको लेकर शंका हैं इसके ट्रायल पूरे नहीं हुए हैं. वहीं, अस्पताल के सदस्य डॉ मनीष झांगिड़ ने कहा, ''बहुत सारे डॉक्टरों ने अपने नाम ही नहीं दिए हैं.''


RML के डॉक्टरों की चिट्ठी के बाद स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि डॉक्टरों को किसी प्रकार की अफवाह में नहीं पड़ना चाहिए और COVAXIN पूरी तरह सुरक्षित है. कोविड वैक्सीन समिति के प्रमुख डॉ. वीके पॉल ने खुद COVAXIN लेकर डॉक्टरों से अपील की कि वो इस पर विश्वास करें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोविड वैक्सीन समिति बाइट प्रमुख डॉ. वीके पॉल ने कहा, ''मैं डॉक्टरों से हाथ जोड़ कर निवेदन करता हूं कि ये वैक्सीन लें और इन पर विश्वास करें.'' भले ही यह बात खुल कर नहीं बोली जा रही हो लेकिन बहुत से डॉक्टर नाम आने के बावजूद भी वैक्सीन लगवाने नहीं आए.