लॉकडाउन वाली ईद, इस बार बहुत अलग दिखी ज़ामा मस्जिद

लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग नियमों के चलते इस बार काफी अलग तरीके से ईद मनाई जा रही है. 

लॉकडाउन वाली ईद, इस बार बहुत अलग दिखी ज़ामा मस्जिद

खास बातें

  • कोरोनावायरस के बीच पहली बार बहुत अलग रही ईद
  • ज़ामा मस्जिद इस बार पड़ी रही सूनी
  • बस शाही इमाम और उनके परिवार ने पढ़ी नमाज़
नई दिल्ली:

कोरोनावायरस के चलते देशभर में लागू लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) के बीच सोमवार को देश में ईद मनाई जा रही है. लेकिन ज़ाहिर है कि कोविड-19 महामारी के इस दौर ने ईद की चमक फीकी कर दी है. लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग नियमों के चलते इस बार काफी अलग तरीके से ईद मनाई जा रही है. इस बार लोग न मस्जिदों में नमाज पढ़ने के लिए इकट्ठा हुए हैं, न ही एक दूसरे से मिल रहे हैं. लॉकडाउन के नियमों और वायरस को फैलने से रोकने के लिए लोग अपने घरों में ही रहने को प्राथमिकता दे रहे हैं. दिल्ली की मशहूर ऐतिहासिक जामा मस्जिद यूं तो हर साल ईद पर नमाज़ियों से ठसाठस भरी होती है, लेकिन इस बार जामा मस्जिद का नजारा काफी अलग दिखा है. एक एरियल शॉट में देखा जा सकता है कि मस्जिद का परिसर पूरी तरह सूना पड़ा है.

फिल्ममेकर और एरियल फोटोग्राफर सोहेब इलियास ने सोमवार को मस्जिद के कुछ एरियल शॉट्स शेयर किए हैं. ये तस्वीरें सुबह साढ़े सात बजे ली गई हैं. इलियास ने अपने ट्वीट में बताया कि इस बार मस्जिद में बस मस्जिद के शाही इमाम और उनके परिवार ने नमाज़ पढ़ी है.

उन्होंने फोटो शेयर करके लिखा, 'आप सभी को ईद मुबारक, एक ऐतिहासिक मौका. यह आज सुबह साढ़े सात बजे की फोटो है, जब मस्जिद में नमाज़ पढ़ी जा रही थी. जैसा देखा जा सकता है मस्जिद खाली है. बस शाही इमाम और उनके परिवार ने आज की नमाज़ अता की.'

दिल्ली पुलिस ने न्यूज एजेंसी ANI को बताया कि ईद को देखते हुए शहर में व्यवस्था बनाई गई थी और लोगों से किसी तरह का आयोजन करने या भीड़ जुटाने से मना किया गया है.

एक सीनियर पुलिस ऑफिसर संजय भाटिया ने बताया, 'लोगों को घर रहकर ही नमाज़ अता करने और बाहर न निकलने को कहा गया है.  हम कल से ही इसे लेकर ऐलान कर रहे हैं और सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दे रहे हैं. लोग बस जरूरी सामानों की खरीदारी के लिए ही बाहर निकल रहे हैं. हमें उम्मीद है कि लोग घर पर ही रहेंगे और ऐसे ही ईद मनाएंगे.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ज़ामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने बताया कि ईद पर नमाज़ पढ़ने के लिए उनके अलावा मस्जिद के स्टाफ के 15-16 लोग ही मौजूद थे और लोगों से इस बार घरों पर रहकर ईद मनाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की सलाह दी गई है.

वीडियो: दिल्ली : 13418 कोरोना केस, अब तक 261 मरीजों की मौत