Exclusive: नीतीश कुमार कभी अकेले सरकार नहीं बना सके, कभी बीजेपी तो कभी हमारे साथ ही आए - तेजस्वी

तेजस्वी ने कहा कि कई सालों से शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हो पा रही थी. कोर्ट का ऑर्डर भी आ गया कि सरकार नियुक्ति पत्र जल्द से जल्द दे लेकिन उसके बाद भी हमारे बेरोज़गार भाइयों की नियुक्ति नहीं हुई.

पटना:

बिहार (Bihar) के पूर्व उप मुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) बुधवार को टीईटी पास शिक्षक अभ्यर्थियों के समर्थन में पहुंचे थे. अभ्यर्थियों  के समर्थन में उन्होंने डीएम से बातचीत की थी जिसका एक वीडियो वायरल हुआ है. जिसमें उन्हें प्रशासन पर दवाब बनाने के लिए अपना परिचय देना पड़ रहा है. इन्हीं तमाम मुद्दों को लेकर तेजस्वी यादव ने NDTV से बात की है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार को उनसे खतरा है साथ ही उन्होंने बातचीत में राज्य सरकार पर जमकर हमला बोेला है.

तेजस्वी ने कहा कि  कई सालों से शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हो पा रही थी, कोर्ट का ऑर्डर भी आ गया कि सरकार नियुक्ति पत्र जल्द से जल्द दे लेकिन उसके बाद भी हमारे बेरोज़गार भाइयों को नियुक्ति नहीं हुई. फिर इन्होंने धरनास्थल पर धरना दिया. लोग शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे थे. लेकिन इन पर लाठी चार्ज किया गया. इन्हेोंने चंदा इकट्ठा करके टैंट लगाया था वो भी उखाड़ दिया. उन्होंने राज्य सरकार पर आरोप लगाया कि वो तानाशाही रवैया अपना रही है. कोर्ट के ऑर्डर को भी इंपलीमेंट राज्य में नहीं किया जा रहा है.

VIDEO: 'हम तेजस्वी यादव बोल रहे हैं, DM साहब', बिहार में वायरल हो रहा है यह फोन कॉल

विपक्ष नेता ने कहा कि नीतीश जी के राज में सभी लोगों पर लाठीचार्ज हुआ. आज मेरे घर के बाहर पेट्रोलिंग हुई. लोगों को पकड़ पकड़ कर पीटा जा रहा है. लोगों को धमकाया गया, चमड़ी उखाड़ने की बात की जा रही है. ये नीतीश कुमार जी किस तरह सरकार चला रहे हैं? पूरे पटना में कहीं पेट्रोलिंग नहीं हो रही और हमारे घर के बाहर हो रही है. पटना में हुई हत्या के मामले को दबाने का प्रयास किया जा रहा है.


बिहार के रूपेश हत्याकांड पर डीजीपी के दावे पर तेजस्वी क्यों सवाल उठा रहे हैं?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा कि अभी तक पुलिस कोई सुराग नहीं ढूंढ़ पाई है. गिरफ़्तारी तो दूर की बात है. नीतीश कुमार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि वो कभी अकेले नहीं आए, या तो हमारे साथ आए या बीजेपी के साथ आए. अभी तक मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं हुआ है. ऐसा कोई सगा नहीं जिसको नीतीश कुमार ने ठगा नहीं. राजद नेता ने कहा कि नीतीश कुमार लोकतंत्र को खत्म करना चाहते हैं. मौजूदा सरकार चोर दरवाज़े की है. नीतीश जी के ख़िलाफ़ ये मेंडेट था. आज बीजेपी और आरएसएस ने जमीन पकड़ी तो उसमें नीतीश जी की भारी देन है. हम नकारात्मक और जोड़ तोड़ करने वाली राजनीति नहीं करते हैं. हम सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ेंगे.