NDTV Khabar

फ्लाइंग ऑफिसर भावना कंठ ने रचा इतिहास, बनीं फाइटर प्लेन MiG-21 उड़ाने वाली पहली महिला

भावना की इस उपलब्धि पर भारतीय वायुसेना के कैप्टन और प्रवक्ता अनुपम बनर्जी ने कहा, 'भावना कंठ ने दिन में फाइटर प्लेन मिग-21 (MiG-21) को उड़ाकर इस मिशन को पूरा किया.  इस तरह वह यह उपलब्धि हासिल करने वाली पहली भारतीय महिला फाइटर पायलट बन गई है.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
फ्लाइंग ऑफिसर भावना कंठ ने रचा इतिहास, बनीं फाइटर प्लेन MiG-21 उड़ाने वाली पहली महिला
जयपुर:

भारतीय वायु सेना की फ्लाइंग ऑफिसर भावना कंठ (Bhawana Kanth) ने प्लाइटर प्लेन उड़ाकर इतिहास में अपना नाम दर्ज कर लिया है. ऐसा करने वाली वह भारतीय वायु सेना की पहली महिला पायलट बन गई हैं. भावना ने भारतीय फ्लाइटर प्लेन मिग-21 (MiG-21) को सफलता पूर्वक उड़ाकर यह योग्यता हासिल की.

पाक का लड़ाकू विमान समझकर IAF की मिसाइल ने उड़ाया खुद का ही विमान, 6 जवान हो गए थे शहीद

भावना की इस उपलब्धि पर भारतीय वायुसेना के कैप्टन और प्रवक्ता अनुपम बनर्जी ने कहा, 'भावना कंठ ने दिन में फाइटर प्लेन मिग-21 (MiG-21) को उड़ाकर इस मिशन को पूरा किया.  इस तरह वह यह उपलब्धि हासिल करने वाली पहली भारतीय महिला फाइटर पायलट बन गई है.'

भारत का अनुबंध मिला तो दूसरे देश को एफ-21 की बिक्री नहीं की जाएगी : लॉकहीड मार्टिन


भावना भारतीय वायु सेना के पहले महिला फाइटर बैच की महिला फाइटर पायलट है. उनके साथ दो अन्य महिला फाइटर पायलट अवनी चतुर्वेदी और मोहना सिंह को 2016 में फ्लाइंग ऑफिसर के रूप में चुना गया था. पहले वायु सेना में फाइटर पायलट के तौर महिला पायलटों के उड़ान की अनुमति नहीं थी. 2016 में तत्कालीन रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर ने इस नियम को हटाते हुए महिला पायलटों को भी बतौर फाइटर पायलेट वायु सेना में शामिल करने की अनुमति दी थी.

भारतीय वायुसेना के पूर्व सार्जेंट को मिली मौत की सजा, पत्नी को 5 साल की कैद, अपराध सुनकर खड़े हो जाएंगे रोंगटे

मिग-21 (MiG-21) भारतीय वायु सेना का सबसे पुराना फाइटर प्लेन है. इस प्लेन को 1964 में पहली बार भारतीय वायु सेना में शामिल किया था. इसके बाद इसे लगातार आधुनिक तकनीकों से अपग्रेड किया जाता रहा है. मिग-21 (MiG-21) निश्चित रूप से भारतीय वायु सेना की विरासत है. 

मिग-21 ने पाकिस्तानी के एफ-16 को गिराया था, हमारे पास हैं इलेक्ट्रॉनिक सबूत: विदेश मंत्रालय

वर्तमान में भावना राजस्तान के बीकानेर स्थित नल बेस पर तैनात है. भावना ने यह उड़ान भारतीय वायु सेना के फाइटर प्लेन मिग-21 (MiG-21) 'बाइसन' में अंबाला एयर फोर्स स्टेशन से भरी. भारतीय वायुसेना के एक अधिकारी ने कहा, 'एक बार वह रात के मिशन का प्रशिक्षण पूरा कर लें, तो उसे रात्रि अभियान में भी जाने की इजाजत दी जाएगी.'

राजस्थान की सीमा पर नजर आया पाकिस्तानी ड्रोन, भारतीय सेना ने मार गिराया

भावना फाइटर स्क्वॉड्रन में नवंबर 2017 में शामिल हुई थीं और पहली बार अकेले मिग-21 (MiG-21) को पिछले साल मार्च में उड़ाया था. वायु सेना के प्रवक्ता अनुपम बनर्जी ने कहा कि अपनी कड़ी मेहनत और लगन के कारण वह इस मुकाम को हासिल करने वाली भारतीय वायु सेना की पहली महिला अधिकारी बनी हैं.'

टिप्पणियां

VIDEO: कुशीनगर: वायुसेना का जगुआर विमान हुआ क्रैश, पायलट सुरक्षित



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement