उत्तर प्रदेश: युवती की आत्महत्या पर परिजनों ने किया हंगामा, पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

युवती द्वारा आत्महत्या करने की जानकारी जब परिजनों को हुई तो उन्होंने कोतवाली में जमकर हंगामा किया.

उत्तर प्रदेश: युवती की आत्महत्या पर परिजनों ने किया हंगामा, पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

परिजनों का आरोप है कि पुलिस की पिटाई से परेशान होकर युवती ने उठाया कदम (तस्वीर प्रतीकात्मक)

जालौन:

उत्तर प्रदेश के जालौन  में पुलिस कार्रवाई से परेशान होकर एक युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या की. युवती द्वारा आत्महत्या करने की जानकारी जब परिजनों को हुई तो उन्होंने कोतवाली में जमकर हंगामा किया. परिजनों ने दरोगा पर पिटाई करने आरोप लगाया है तथा पुलिसकर्मी के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी की है. परिजनों के हंगामे को देखते हुए सीओ मौके पर पहुंचे और शिकायत पर दरोगा के खिलाफ जांच का आश्वासन भी दिया. मामला जालौन के उरई कोतवाली क्षेत्र के नया रामनगर इलाके का है. यहां शुक्रवार की रात एक 22 वर्षीय युवती ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. शनिवार सुबह जब परिजनों ने फंदे पर झूलता देखा तो तत्कालस उसे नीचे उतारकर अस्पताल ले गये, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. 

दिल्ली के नरेला में डबल मर्डर के बाद आरोपी ने जहर खाकर जान दी

मौत के बाद परिजन आक्रोशित हो गए और उन्होंने कोतवाली का घेराव करते हुये पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया. पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे परिजनों ने बताया कि शुक्रवार की दोपहर को मृतक युवती बाजार गई थी, जहां  बलदाऊ चौक के कुछ दुकानदारों ने उस पर चोरी का आरोप लगाते हुए दो सहेलियों के साथ पकड़ लिया था. दुकानदारों ने दरोगा योगेश पाठक को बुलाकर युवतिओं को उन्हें सौंप दिया था. पुलिस युवती और उसकी दो सहेलियों को कोतवाली लेकर गई थी. पूछताछ के बाद परिजनों को बुलाकर तीनों युवतियों को उनके हवाले कर दिया गया था. 

पश्चिम बंगाल : पूर्व शाही मल्ला परिवार के सदस्य ने गोली मारकर की आत्महत्या

Newsbeep

परिजनों ने  खुदकुशी की वजह चोरी का आरोप लगाना बताया है परिजनों ने बताया कि कोतवाली में तैनात दरोगा योगेश पाठक ने युवती की पिटाई की थी जबकि महिला को सिर्फ महिला पुलिस को ले जाने का अधिकार है, लेकिन दरोगा योगेश पाठक ने युवती पिटाई की थी. इससे आहत होकर कोतवाली से वापस आने के बाद से ही वह गुमसुम व तनाव में रहने लगी थी. परिवार का दावा है कि इसके बाद युवती ने फांसी लगा ली, परिजनों ने बताया कि दरोगा ने मामले में पूछताछ के लिए युवती को फिर बुलाया था और इस बात से युवती खासी परेशान भी थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(अगर आपको सहायता की ज़रूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं, जिसे मदद की दरकार है, तो कृपया अपने नज़दीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं)
हेल्‍पलाइन :
1) वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ : 1860-2662-345 / 1800-2333-330 (24 घंटे उपलब्ध)
2) TISS iCall - 022-25521111 (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध - सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)