NDTV Khabar

यूनिटेक को सुप्रीम कोर्ट से राहत, अब टेकओवर नहीं कर पाएगी केंद्र सरकार

केंद्र सरकार की ओर से AG के के वेणुगोपाल ने कहा कि वह माफी मांगते हैं कि केंद्र को NCLT में यह अर्जी नहीं देनी चाहिए थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूनिटेक को सुप्रीम कोर्ट से राहत, अब टेकओवर नहीं कर पाएगी केंद्र सरकार

यूनिटेक को सुप्रीम कोर्ट से राहत, अब टेकओवर नहीं कर पाएगी केंद्र सरकार (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. यूनिटेक का टेकरओवर अब नहीं कर पाएगी केंद्र सरकार
  2. सुप्रीम कोर्ट ने NCLT के 10 निदेशक नियुक्त करने के फैसले पर रोक लगाई
  3. यूनिटेक को इस पर मिली राहत
मुंबई:

यूनिटेक को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है. केंद्र सरकार अब यूनिटेक का टेकओवर नहीं कर पाएगी. दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने NCLT के उस फैसले पर रोक लगा दी है जिसमें यूनिटेक में केंद्र को दस निदेशक नियुक्त करने के आदेश दिए थे. केंद्र सरकार की ओर से AG के के वेणुगोपाल ने कहा कि वह माफी मांगते हैं कि केंद्र  को NCLT में यह अर्जी नहीं देनी चाहिए थी. रियल एस्टेट कंपनी यूनिटेक की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. इस संबंध में केंद्र सरकार को कोर्ट के सामने अपना पक्ष बताना था.

यूनिटेक के निदेशक मंडल में सरकार को 10 निदेशक रखने की एनसीएलटी की मंजूरी

मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को फटकार लगाते हुए कहा था कि आपको नैशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल में जाने से पहले एक बार सुप्रीम कोर्ट की इजाज़त लेनी चाहिए थी. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ये बेहद परेशान करने वाला है कि जब सुप्रीम कोर्ट मामले की सुनवाई कर रहा है और NCLT आदेश दे रहा है.


टिप्पणियां

VIDEO- जब किए गए थे यूनिटेक के एमडी संजय चंद्रा और उनका भाई गिरफ्तार

दरअसल यूनिटेक ने सुप्रीम कोर्ट में नैशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल के उस आदेश को चुनौती दी है जिसके तहत केन्द्र सरकार को कंपनी को कंपनी की बागडोर संभालने के लिए कहा गया था. इससे पहले नैशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल (NCLT) ने रियल एस्टेट कंपनी यूनिटेक को तगड़ा झटका दिया था. शुक्रवार को ट्राइब्यूनल ने सरकार को कर्ज के बोझ तले दबी इस कंपनी के 10 निदेशकों की नियुक्ति करने की अनुमति दे दी थी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement