मेघालय के राज्यपाल ने नागरिकता कानून पर कहा- अगर आप इसे नहीं चाहते तो उत्तर कोरिया चले जाइए...

मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय ने शुक्रवार को यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया कि जो लोग विभाजनकारी लोकतंत्र नहीं चाहते हैं, वह उत्तर कोरिया चले जाएं.

मेघालय के राज्यपाल ने नागरिकता कानून पर कहा- अगर आप इसे नहीं चाहते तो उत्तर कोरिया चले जाइए...

मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय- (फाइल फोटो)

खास बातें

  • मेघालय के राज्यपाल ने किया ट्वीट
  • 'जो लोग इसे नहीं चाहते नॉर्थ कोरिया चले जाए'
  • बयान के बाद खड़ा हुआ विवाद
शिलांग:

मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय ने शुक्रवार को यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया कि जो लोग विभाजनकारी लोकतंत्र नहीं चाहते हैं, वह उत्तर कोरिया चले जाएं. रॉय ने ट्वीट किया, ‘‘लोकतंत्र अनिवार्य रूप से विभाजनकारी है. अगर आप इसे नहीं चाहते हैं तो उत्तरी कोरिया चले जाइए.” राज्यपाल इस ट्वीट के जरिए परोक्ष रूप से नए नागरिकता कानून का समर्थन कर रहे थे. उन्होंने कहा, “विवाद के वर्तमान माहौल में दो बातों को कभी नहीं भूलना चाहिए - 1. देश को कभी धर्म के नाम पर विभाजित किया गया था. 2. लोकतंत्र अनिवार्य रूप से विभाजनकारी है. अगर आप इसे नहीं चाहते तो उत्तर कोरिया चले जाइए.”

पंजाब के राज्यपाल बोले- हल्दीघाटी युद्ध में 'रामप्रसाद' हाथी के अलावा अकबर को कुछ नहीं मिला

उत्तर कोरिया में तानाशाह किम जोंग-उन का शासन है. उनका ये ट्वीट प्रदर्शनकारियों के राजभ‍वन पहुंचने से कुछ घंटे पहले आया. प्रदर्शनकारियों ने जब सुरक्षा का उल्लंघन करने की कोशिश की, तो उन पर लाठीचार्ज किया गया था, जिसमें कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. हाथापाई में दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं.

बीजेपी ने उद्धव ठाकरे से महाराष्ट्र में नागरिकता कानून को लागू करने को कहा

प्रदर्शनकारी राज्यपाल से मांग कर रहे थे कि वह बाहरी लोगों के राज्य में प्रवेश पर अनिवार्य पंजीकरण के लिए प्रस्तावित अध्यादेश को अपनी सहमति दें और साथ ही केंद्र राज्य में इनर लाइन परमिट को लागू करे.

खबरों की खबर: क्यों जल रहा है पूर्वोत्तर?



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com