Republic Day 2021: राजपथ पर दिखी देश के शौर्य और संस्कृति की झलक, राफेल ने भी दिखाई ताकत

72nd Republic Day 2021:देश आज अपना 72वां गणतंत्र दिवस मना रहा है. आज राजपथ पर देश की ताकत और समृद्ध संस्कृति को समेटे ऐतिहासिक परेड निकली. इस बार का गणतंत्र दिवस कई मायनों में खास है. इस बार यह कोरोना काल के बीच सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए मनाया जा रहा है.

Republic Day 2021: राजपथ पर दिखी देश के शौर्य और संस्कृति की झलक, राफेल ने भी दिखाई ताकत

Image's caption: January 26th, 2021: देेश मना रहा है 72वां गणतंत्र दिवस

खास बातें

  • कोरोना काल के बीच नियमों का पालन करते हुए मनाया जा रहा है गणतंत्र दिवस
  • चप्पे चप्पे पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं
  • आज आंदोलन कर रहे किसान ट्रैक्टर मार्च भी निकालेंगे

देश आज अपना 72वां गणतंत्र दिवस (Republic Day 2021) मना रहा है. आज राजपथ पर देश की ताकत और समृद्ध संस्कृति को समेटे ऐतिहासिक परेड निकली.  राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राजपथ पर पहुंचकर तिरंगा फहराया. इस दौरान, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद रहे. इससे पहले, प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने नेशनल वॉर मेमोरियल पहुंचकर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की. 

 कोविड-19 कारण उत्पन्न परिस्थिति के मद्देनजर इस बार गणतंत्र दिवस समारोह में कोई विदेशी शासनाध्यक्ष मुख्य अतिथि के रूप में नहीं थे.कोरोना वायरस महामारी के कारण इस बार गणतंत्र दिवस समारोह इस मायने में भी अन्य वर्षों की तुलना में अलग रहा कि परेड के पथ की दूरी कम कर दी गई. हर साल की तरह विजय चौक से शुरू होकर परेड के लाल किले की बजाए इंडिया गेट के पास नेशनल स्टेडियम में सम्पन्न करने का पथ निर्धारित किया गया.

सलामी मंच पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की मौजूदगी में राजपथ पर भारत की संस्कृति के रंगों और रक्षा क्षेत्र की ताकत का प्रदर्शन किया गया.अत्याधुनिक हथियारों, मिसाइलों, लड़ाकू विमानों एवं जहाजों और भारतीय सैनिकों के दस्तों ने किसी भी चुनौती से निपट सकने की देश की ताकत का अहसास कराया. सबसे अंत में रोमांच से भर देने वाले युद्धक विमानों को राजपथ के उपर से हैरतअंगेज कारनामों के साथ उड़ान भरते देखा गया. इन विमानों की ताकत के साथ ही वायुसेना के पायलटों का हुनर और जांबाज़ी का अहसास हुआ.

परेड के परेड कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार मिश्रा 

करीब 10 बजे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने तिरंगा फहराया और राष्ट्रगान की धुन के बीच 21 तोपों की सलामी के साथ परेड शुरू हुई. आज की परेड के परेड कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार मिश्रा थे.

राफेल ने दिखाई ताकत

राजपथ पर राफेल ने भी ताकत दिखाई.  यह पलक झपकते ही गायब हो गया. एकलव्य फॉरमेशन की अगुवाई राफेल लड़ाकू विमान ने की. राफेल के साथ दो जगुआर, दो मिग-29 लड़ाकू विमान थे. राफेल लड़ाकू विमान इस बार वर्टिकल चार्ली रूप में दिखा. इस फॉर्मेशन का नेतृत्व 17 स्क्वाड्रन के कैप्टन रोहित कटारिया ने की.

परेड में शामिल हुई बांग्लादेश की सेना
परेड की शुरुआत में सबसे पहले हेलिकॉप्टरों ने दर्शकों पर फूल बरसाए और उसके बाद पूर्व सैनिकों ने राष्ट्रपति को सलामी दी. राजपथ पर पहली बार बांग्लादेश की सशस्त्र सेनाओं के 122 सैनिकों के मार्चिंग दस्ते ने भी सलामी दी.  इस दस्ते में बांग्लादेश की थल सेना, नौसेना और वायुसेना के जवान शामिल हुए.  बांग्लादेश की इस टुकड़ी का नेतृत्व कमांडर लेफ्टिनेंट कर्नल अबू मोहम्मद शाहनूर ने किया. इस वर्ष भारत और बांग्लादेश के बीच राजनयिक संबंधों के पचास साल पूरे हो रहे हैं.

राजपथ पर भीष्म टैंक और ब्रह्मोस मिसाइल  ने दिखाई ताकत

राजपथ पर टी-90 टैंकों  (भीष्म) ने अपनी ताकत दिखाई. इसके साथ ही 861 मिसाइल रेजिमेंट की ब्रह्मोस मिसाइल प्रणाली के मोबाइल स्वायत (ऑटोनोमस) लांचर ने भी अपनी ताकत की झलक पेश की.  स मिसाइल को भारत और रूस के संयुक्त उद्यम से तैयार किया गया है. 

चिनकू और अपाचे भी रहे आकर्षण का केंद्र
भारतीय वायु सेना में शामिल किए गए चिनूक और अपाचे युद्धक हेलीकॉप्टर के साथ एमआई-17 हेलीकाप्टर गणतंत्र दिवस की भव्य सैन्य परेड में आकर्षण का मुख्य केंद्र रहे. चिनूक दूरदराज के स्थानों तक व्यापक स्तर पर सामग्री को पहुंचा सकता है. अपाचे हवा से हवा और हवा से जमीन पर मार करने वाली मारक क्षमता वाला हेलीकॉप्टर है जो दुश्मनों पर कहर ढा सकता है.गणतंत्र दिवस परेड के दौरान हर्कुलियस, जगुआर, सुखोई विमानों ने अद्भुत प्रदर्शन कर उपस्थित लोगों का मन मोह लिया.

राजपथ पर लद्दाख और राममंदिर की झांकी भी दिखी

राजपथ पर झांकियों में लद्दाख की झांकी  भी दिखी जो केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद पहली बार गणतंत्र दिवस परेड में शिरकत की. इस बार उत्तर प्रदेश की झांकी में राम मंदिर की झलक दिखाई गई. इसमें मंदिर की झलक के साथ महर्षि वाल्मिकी को रामायण की रचना करते हुए दिखाया गया है.17 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में -गुजरात, असम, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, पंजाब, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, उत्तरप्रदेश, कर्नाटक, केरल, आंध्रप्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, दिल्ली और लद्दाख की झांकी पेश की गई.

पीएम मोदी ने दी गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं

पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लिखा है कि देशवासियों को गणतंत्र दिवस की ढेरों शुभकामनाएं। जय हिंद!

झांकियों में दिखेगी फिट इंडिया मूवमेंट और आत्मनिर्भर भारत की झलक 

 ओडिशा में कालाहांडी के मनमोहक लोक नृत्य बजासल साथ ही अन्य झांकियों में फिट इंडिया मूवमेंट और आत्मनिर्भर भारत के अभियान की बानगी भी पेश की गई.

चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा
पूरे देश में गणतंत्र दिवस के मौके पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. हालांकि आज किसानों की ट्रैक्टर रैली भी  है, जिसके चलते पुलिस को व्यवस्था बनाए रखने के लिए और मशक्कत करनी पड़ेगी.

ये वीडियो भी देखें- 72वां गणतंत्र दिवस: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने फहराया तिरंगा


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com