हैदराबाद : भारी बारिश की वजह से गिरी दीवार, 2 महीने के मासूम सहित 9 की मौत

हैदराबाद (Hyderabad Wall Collapse) में बारिश के चलते एक दीवार गिर गई. इस हादसे में 2 माह के मासूम समेत 9 लोगों की मौत हो गई.

खास बातें

  • आंध्र-तेलंगाना में बारिश का कहर
  • बारिश के चलते हैदराबाद में ढही दीवार
  • दीवार गिरने से 9 लोगों की मौत
हैदराबाद:

आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh Rain) और तेलंगाना (Telangana) में बीते तीन दिनों से रुक-रुककर बारिश हो रही है. मौसम विभाग (IMD) ने अगले 24 घंटों में भारी बारिश का अनुमान जताया है. आंध्र सरकार ने प्रभावित जिलों के अधिकारियों को इस बाबत पत्र लिख अलर्ट रहने को कहा है. वहीं दूसरी ओर राजधानी हैदराबाद (Hyderabad Wall Collapse) में बारिश के चलते एक दीवार गिर गई. इस हादसे में 2 माह के मासूम समेत 9 लोगों की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि सभी शव मलबे में फंसे हैं. बचाव टीम मौके पर हैं.

हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) भी घटनास्थल पर पहुंचे. उन्होंने ट्वीट किया, 'मैं बंडलागुड़ा के मोहम्मदीया हिल्स इलाके में निरीक्षण के लिए गया था, जहां एक बाउंड्री वॉल गिर गई. इस हादसे में 9 लोगों की मौत हो गई और दो लोग घायल हैं. मैंने शमशाबाद में फंसे लोगों को लिफ्ट दी और अब मैं तलबकट्टा और येसराबनगर के रास्ते में हूं.'

बताते चलें कि तेलंगाना में बारिश के चलते अब तक 12 लोगों की मौत हो गई है. बारिश की वजह से कई इलाकों में जलजमाव भी देखने को मिल रहा है. भारी बारिश के कारण आंध्र प्रदेश के कई जिलों में भी नुकसान की भी खबर है. दरअसल बंगाल की खाड़ी में बना गहरे दबाव का क्षेत्र मंगलवार को आंध्र के पूर्वी गोदावरी जिले के काकीनाडा में तटीय इलाकों के करीब से होकर गुजरा, जिसकी वजह से कई जिलों में भारी बारिश हुई. राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कहा कि गहरे दबाव का क्षेत्र कल शाम साढ़े छह बजे से आज सुबह साढ़े सात बजे के बीच तटीय क्षेत्रों से गुजरा. पूर्वी गोदावरी जिले में भारी बारिश की वजह से बोम्मुरु गांव में घर की छत गिरने से एक महिला की मौत हो गई.

9 घंटे लगातार बारिश के बाद मुंबई का अस्पताल बना तालाब, VIDEO आया सामने

आंध्र के मुख्य सचिव सोमेश कुमार ने प्रभावित जिलों के वरिष्ठ अधिकारियों को पत्र लिखा और हाई अलर्ट पर रहने को कहा. उन्होंने लिखा, 'निचले इलाकों में बारिश की वजह से भारी जलजमाव और बाढ़ के हालात पैदा हो सकते हैं. पेड़ गिर सकते हैं और बिजली प्रभावित हो सकती है. ऐसे में छोटे पुलों पर खास निगरानी बनाए रखें. जिन जगहों पर खतरे की आशंका हो, वहां पर ट्रैफिक व पैदल मार्ग को फौरन प्रतिबंधित करें. सुनिश्चित करें कि जानमाल का नुकसान नहीं हो.'

Newsbeep

VIDEO: मुंबई में लगातार 9 घंटे मूसलाधार बारिश, जन जीवन अस्त-व्यस्त

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com