NDTV Khabar

मुंबई और गुजरात सहित देश के कई हिस्सों में भारी बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त

मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल पर भी बारिश का थोड़ा असर पड़ा है. रेल ट्रैक पर पानी भर जाने के कारण कुछ इलाकों में ट्रेनें देर से चल रही हैं.

377 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुंबई और गुजरात सहित देश के कई हिस्सों में भारी बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त

देश के कई हिस्सों में हो रही भारी बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. मुंबई में भारी बारिश से सड़कों पर लंबा जाम
  2. गुजरात के सौराष्ट्र में पानी में डूबीं सड़कें
  3. असम में बाढ़ के हालात में थोड़ा सुधार
नई दिल्ली: मुंबई और गुजरात सहित देश के कई हिस्सों में हो रही भारी बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. मुंबई में शुक्रवार से ही भारी बारिश हो रही है. इसकी वजह से शहर के कई हिस्सों में जलभराव की समस्या हो गई है. इससे जगह-जगह ट्रैफिक जाम की समस्या से लोगों को जूझना पड़ रहा है. वहीं, मौसम विभाग ने यहां हाईडाइड की आशंका भी जताई है. मौसम विभाग ने कहा है कि दोपहर 11 बजे के बाद कभी भी समुद्र में ऊंची लहरे उठ सकती हैं. 

गुजरात भी पानी-पानी : वहीं, कुछ ऐसा ही हाल गुजरात का भी है, जहां पूरे राज्यभर में हर जगह जगह पानी ही पानी दिखाई दे रहा है. वहां भी इससे जनजीवन पर काभी असर पड़ा है. सौराष्ट्र में सड़कें पानी में डूब गई हैं. घरों में भी पानी घुस गया है, जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. मुंबई और गुजरात के अलावा  पहाड़ी राज्यों उत्तराखंड और हिमाचल में भी बारिश के कारण काफी नुकसान हुआ है, उत्तराखंड में तो अगले तीन दिनों में भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की गई है. 

वीडियो देखें : मुंबई में अगले 24 घंटे भारी बारिश के आसार




यह भी पढ़ें :  गुजरात : भारी बारिश के चलते तीन लोगों की मौत, वायुसेना की ली जा रही है मदद

लोकल पर ज्यादा असर नहीं : भारी बारिश का असर मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल पर भी थोड़ा बहुत पड़ा है. रेल ट्रैक पर पानी भरने के कारण कुछ इलाकों में ट्रेनें देर से चल रही हैं. मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि वेस्टर्न एक्सप्रेसवे हाईवे और बोरिवली से मलाड की तरफ जाने वाली सड़कों की स्थिति सबसे ज्यादा खराब है. जलभराव के कारण जाम की स्थिति बनी हुई है. 

यह भी पढ़ें :  बारिश कम; उमस ज्यादा, उत्तर भारत के लोग मौसम के मिजाज से परेशान

असम की स्थिति में थोड़ा सुधार: वहीं, दूसरी तरफ असम में बाढ़ की स्थिति में थोड़ा सुधार हुआ है. हालांकि राज्य के 13 जिलों में दो लाख से ज्यादा लोग अब भी प्रभावित हैं.  

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement