जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद दिल्ली मेट्रो, हरियाणा-हिमाचल और मथुरा-नोएडा में हाई अलर्ट

जम्मू-कश्मीर पर केंद्र सरकार के ऐतिहासिक फैसले के बाद किसी भी संभावित अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए गृह मंत्रालय से मिले दिशा-निर्देशों के अनुसार मथुरा में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है तथा पुलिस के आला अफसर खुद सड़कों पर उतरकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं.

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद दिल्ली मेट्रो, हरियाणा-हिमाचल और मथुरा-नोएडा में हाई अलर्ट

दिल्ली मेट्रो में भी हाई अलर्ट जारी किया गया है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद- 370  हटने के बाद किसी भी संभावित अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए गृह मंत्रालय से मिले दिशा-निर्देशों के अनुसार मथुरा में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है तथा पुलिस के आला अफसर खुद सड़कों पर उतरकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं.  इसके अलावा मिश्रित आबादी वाले इलाकों में पुलिस बलों को सतर्क कर फ्लैग मार्च कराया गया. गौरतलब है कि केंद्र सरकार द्वारा संविधान के अनुच्छेद 370  को खत्म किए जाने के बाद राज्य के संवेदनशील इलाकों में सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किए गए थे. इसके बाद मथुरा के आला अफसरों ने पूरे जनपद में तत्काल अलर्ट जारी कर सभी धर्मस्थलों एवं अधिक भीड़-भाड़ वाले स्थलों पर सुरक्षा व्यवस्था को चाक-चौबंद कर दिया है. मथुरा के जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर ने बताया, ‘देश में बदली परिस्थितियों के बीच जिले भर में अलर्ट किया गया है. श्रीकृष्ण जन्मस्थान समेत सभी प्रमुख स्थानों पर सुरक्षा बढ़ाई गई है. वहीं मिश्रित आबादी वाले इलाकों में खास कर पुलिस बलों का पैदल मार्च कराया गया.'
 
हरियाणा में अलर्ट
हरियाणा पुलिस ने अपने अधिकारियों को संवेदनशील स्थानों पर चौकसी बढ़ाने और राज्य में कश्मीरी लोगों और छात्रों की सुरक्षा के लिए उचित कदम उठाने का अलर्ट जारी किया है.  अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) नवदीप सिंह विर्क ने कहा कि सभी पुलिस आयुक्तों और जिला पुलिस अधीक्षकों को बस स्टैंड और रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा मजबूत करने को कहा गया है. विर्क ने कहा, 'कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा न केवल उनके शिक्षा के स्थान पर और उनके रहने के स्थान पर की जानी चाहिए बल्कि तब भी जब वे अपने घर वापस जाना चाहते हों.'

हिमाचल प्रदेश में चौकसी
हिमाचल प्रदेश पुलिस ने समूचे राज्य में, सोमवार को अलर्ट जारी किया. पुलिस ने यह जानकारी दी.  पुलिस महानिदेशक सीता राम मरडी ने बताया कि राज्य के सभी 12 जिलों के पुलिस अधीक्षकों को राज्य में रह रहे कश्मीरियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है. डीजीपी ने पीटीआई भाषा से कहा कि सीमावर्ती इलाकों में पुलिस अधिकारियों को किसी भी संभावित शरारतपूर्ण हरकत को रोकने को कहा गया है. उन्होंने कहा कि राज्य में रह रहे कश्मीरियों की सटीक संख्या नहीं मालूम है लेकिन हमारे राज्य में कश्मीरी श्रमिक, कारोबारी और छात्र काफी संख्या में हैं. 

नोएडा पुलिस ने जारी किया निर्देश
नोएडा पुलिस ने सोशल मीडिया के लिये दिशानिर्देश जारी किये हैं.  वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के मीडिया प्रभारी प्रभात दीक्षित ने मीडिया को जारी एक बयान में कहा, ‘‘जम्मू कश्मीर प्रकरण को लेकर किसी भी खबर को प्रकाशित करने से पहले सक्षम अधिकारियों से उसकी पुष्टि की जाए.''    उन्होंने सोशल मीडिया का प्रयोग करने वाले लोगों को ताकीद किया है कि वे बिना पुष्टि के किसी भी सूचना को आगे नहीं बढ़ायें. मीडिया प्रभारी ने बताया, ‘‘अपुष्ट खबरों की वजह से तनाव और अफवाह फैल सकता है. इसलिए हर व्यक्ति को अपनी जिम्मेदारी महसूस करते हुए पुष्ट खबर को ही एक दूसरे ग्रुप पर फॉरवर्ड करना चाहिए.''    उन्होंने चेतावनी दी, ‘‘अपुष्ट खबर को सोशल मीडिया पर फॉरवर्ड करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी.''    इस मामले में जिला सूचना अधिकारी राकेश चौहान ने भी सोशल मीडिया का प्रयोग करने वालों के लिए अलर्ट जारी किया है. जिलाधिकारी के माध्यम से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘आम जनमानस, कोई भी ऐसी अपुष्ट खबर सोशल मीडिया पर फॉरवर्ड नहीं करे, जिसकी वजह से तनाव फैले.''

दिल्ली में मेट्रो में भी 'हाई अलर्ट'
दिल्ली मेट्रो नेटवर्क में ‘हाई अलर्ट' जारी कर दिया गया है.  सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि अप्रिय घटना को रोकने के लिए राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में चलने वाली मेट्रो के संबंध में यह ताजा परामर्श जारी किया गया है. अधिकारियों ने बताया कि कई स्टेशनों पर यात्रियों को सीआईएसएफ कर्मियों द्वारा अतिरिक्त जांच से गुजरना पड़ेगा. अधिकारियों के अनुसार बिना किसी विशेष खुफिया जानकारी के ‘हाई अलर्ट' जारी किया गया है. इसे संसद में जम्मू-कश्मीर पर हालिया घटनाक्रम और 15 अगस्त को होने वाले स्वतंत्रता दिवस जश्न के संदर्भ में जारी किया गया है. अधिकारियों ने बताया कि सीआईएसएफ के अतिरिक्त कर्मी, आतंक रोधी प्रतिक्रिया बल और सुरक्षा उपकरण यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तैनात किए गए हैं. दिल्ली मेट्रो रेल नेटवर्क (डीएमआरसी) के 220 से अधिक स्टेशन हैं, जिनमें रोजाना करीब 28 लाख लोग यात्रा करते हैं.

अन्य खबरें :
अनुच्छेद 370 जम्मू-कश्मीर से हटा : श्रीनगर में मौजूद हैं अजीत डोभाल और गृह सचिव राजीव गौबा, 10 बड़ी बातें 

कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कश्मीर जाने के लिए एयर टिकट ही करेगा पास का काम

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

रवीश कुमार का ब्लॉग : कश्मीर ताले में बंद है, कश्मीर की कोई ख़बर नहीं है

कश्मीर मसले पर बोले यशवंत सिन्हा, चुनाव जीतने के लिए सरकार ने हटाई धारा 370



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)