NDTV Khabar

मंदी की ओर जाते भारत और कश्मीर के हालात के बीच अमेरिका में #HowdyModi की कितनी जरूरत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अमेरिका के ह्यूस्टन में 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में हज़ारों भारतीयों को संबोधित करेंगे. कार्यक्रम ह्यूस्टन के NRG स्टेडियम में होगा. पीएम मोदी के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी मौजूद रहेंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मंदी की ओर जाते भारत और कश्मीर के हालात के बीच अमेरिका में #HowdyModi की कितनी जरूरत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी #HowdyModi कार्यक्रम में हिस्सा लेने अमेरिका पहुंच गए हैं

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अमेरिका के ह्यूस्टन में 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में हज़ारों भारतीयों को संबोधित करेंगे.  कार्यक्रम ह्यूस्टन के NRG स्टेडियम में होगा. पीएम मोदी के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी मौजूद रहेंगे. भारतीय समयानुसार रात साढ़े 8 बजे इसकी शुरुआत होगी. आपको बता दें कि पीएम मोदी अमेरिका के 7 दिन के दौरे पर हैं. अमेरिका पहुंचने के बाद भारतीय समुदाय के लोगों ने पीएम का ज़ोरदार स्वागत किया. इसके बाद पीएम अलग-अलग समुदाय के लोगों से मिल रहे हैं. पीएम मोदी ने कश्मीरी पंडितों, वोहरा समुदाय और सिख समुदाय के लोगों से मुलाकात की है और उन लोगों ने पीएम मोदी का जोरदार स्वागत किया है. लेकिन सवाल इस बात का है कि आज जब पीएम मोदी अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ मंच साझा करेंगे तो उससे भारत को क्या मिलने वाला है या सिर्फ 'मोदी इवेंट' भर है जिसमें उनको महारत है. इस कार्यक्रम में अमेरिता सांसद, भारतीय-अमेरिकी समुदाय के प्रमुख लोग हिस्सा  लेंगे. इसके साथ ही 400 कलाकार सांस्कृतिक कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे.

अनुच्छेद 370 हटने के बाद अंतरराष्ट्रीय समुदाय को संदेश
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद हटने के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच 'कूटनीतिक युद्ध' चरम पर है. अमेरिकी मीडिया के हिस्से ने कश्मीर में मानवाधिकार को लेकर कई बार आर्टिकल छापे हैं जिसे पाकिस्तान मुद्दा बनाता रहा है. लेकिन इस कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सहित वहां के सांसदों की मौजूदगी भारत की ओर से संदेश देगी कि दुनिया उसके साथ है. वहीं अमेरिका के राष्ट्रपति की कश्मीर पर मध्यस्थता की गईं बातों पर भी चर्चा पूरी खत्म हो सकती है जिसे पाकिस्तान हवा देने की कोशिश में लगा था.


भारत में मंदी और निवेश
वित्त मंत्री मंत्री निर्मला सीतारमण ने कारपोरेट टैक्स घटाकर 25 फीसदी पर ला दिया है और वहीं 2023 से पहले उत्पादन शुरू करने वाली कंपनियों को अब 15 फीसदी का टैक्स देना है. टैक्स के मुद्दे पर भारत और अमेरिका के संबंधों में बीच में काफी तनाव आया था. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप तो खुले मंच से इस बात पर पीएम मोदी का आलोचना कर चुके हैं. उनका कहना है कि  ट्रंप ने कहा कि उनकी अगुवाई में अमेरिका को अब और 'बेवकूफ' नहीं बनाया जा सकता है. ट्रंप ने कहा कि 'हम बेवकूफ देश नहीं है जिसे बुरी तरह बनाया गया है. आप भारत को देखो जो हमारा अच्छा दोस्त है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आप देखिए आपने क्या किया, मोटरसाइकिल पर 100 फीसदी टैक्स. हमने उनसे कोई चार्ज नहीं लिया'. ट्रंप ने बताया कि जब हम यहां से मोटरसाइकिलें भेजते हैं तो 100 फीसदी टैक्स लगता है लेकिन जब वह अपने देश यहां मोटरसाइकिलें भेजते हैं तो हम कोई भी टैक्स नहीं लगाते हैं. टैक्स को लेकर वित्त मंत्री की ओर से किए ऐलान का कितना असर हुआ कुछ दिन बाद देखने को मिलेगा. लेकिन चीन और अमेरिका के बीच चल रहे 'ट्रेड वार' के बीच भारत के लिए बड़ी संभावनाओं के दरवाजे खुलते दिखाए दे रहे हैं.  माना जा रहा है कि ह्यूस्टन  में भारत और अमेरिका के बीच कोई बड़ा व्यापारिक समझौता हो सकता है. 

क्या भारत को फिर से मिलेगा 'GSP'का दर्जा
अमेरिकी कांग्रेस के दोनों सदनों के 44 प्रभावशाली सांसदों ने डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन से अनुरोध किया है कि अमेरिका और भारत के बीच होने वाले संभावित व्यापार समझौते के हिस्से के रूप में अहम जनरलाइज़्ड सिस्टम प्रेफरेंस या GSP व्यापार कार्यक्रम के अंतर्गत भारत का लाभदायक विकासशील देश का दर्जा बहाल किया जाए. डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने टैक्स विवाद के चलते जून माह में GSP के तहत लाभदायक विकासशील देश के रूप में भारत का दर्जा खत्म कर दिया था.

ट्रंप को क्या मिलेगा
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अगली साल खुद चुनाव में मैदान में होंगे. अमेरिका में भारतीय अमेरिकी समुदाय एक बहुत बड़ा वोटबैंक हैं. जिस जगह पर आज वहां कार्यक्रम होने जा रहा है वहां और आसपास इलाके में ही 2 लाख से ज्यादा भारतीय-अमेरिकी रहते हैं. और अंतरराष्ट्रीय समुदाय में जिस तरह मोदी की लोकप्रियता है उसको डोनाल्ड ट्रंप भी भुनाना चाहते हैं. दूसरा चीन को छोड़कर अमेरिकी कंपनियां भारत में निवेश करना चाहती हैं इसके लिए भारत सरकार से अच्छे संबंध होना बहुत जरूरी है. 

'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए अमेरिका के ह्यूस्टन शहर पहुंचें पीएम मोदी

टिप्पणियां

अन्य खबरें :

'हाउडी मोदी' कार्यक्रम से मजबूत होंगे भारत-अमेरिका के रिश्ते, पढ़ें 10 बड़ी बातें

'हाउडी मोदी' के लिए तैयार है ह्यूस्टन, पोप के बाद किसी विदेशी नेता के लिए अमेरिका में जुटेगी सबसे ज्यादा भीड़



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement