NDTV Khabar

यह हमारी ही बड़ी गलती थी, क्योंकि हमारी मिसाइल ने हमारे ही चॉपर को मार गिराया था : IAF प्रमुख

भारतीय वायुसेना (IAF) के नए प्रमुख एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने 27 फरवरी को श्रीनगर में हुए एमआई-17 चॉपर क्रैश पर कहा, "कोर्ट ऑफ एन्क्वायरी पूरी हो गई है, और यह हमारी ही बड़ी गलती थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. IAF प्रमुख की प्रेस कॉन्फ्रेंस
  2. 'कोर्ट ऑफ एन्क्वायरी पूरी हो गई है'
  3. 'ऐसी गलती भविष्य में नहीं दोहराई जाए'
नई दिल्ली:

भारतीय वायुसेना (IAF) के नए प्रमुख एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने 27 फरवरी को श्रीनगर में हुए एमआई-17 चॉपर क्रैश पर कहा, "कोर्ट ऑफ एन्क्वायरी पूरी हो गई है, और यह हमारी ही बड़ी गलती थी, क्योंकि हमारी मिसाइल ने हमारे ही चॉपर को मार गिराया था... हम दो अफसरों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे... हम स्वीकार करते हैं कि यह हमारी बड़ी गलती थी, और हम सुनिश्चित करेंगे कि इस तरह की गलती भविष्य में नहीं दोहराई जाए..." आपको बता दें की बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद भारतीय वायुसेना का एमआई-17 चॉपर श्रीनगर के पास गश्त कर रहा था. लेकिन अचानक उस पर गलती से मिसाइल हमला कर दिया गया था. कोर्ट ऑफ इन्क्वाएरी में पाया गया था कि अपने ही देश के स्पाइडर एयर डिफेंस की ओर से चॉपर पर मिसाइल दाग दी गई थी. चॉपर के 10 मिनट पहले ही उड़ान भरी थी.  ज्ञात हो कि इस हादसे में Mi-17 हेलीकॉप्‍टर में सवार 7 सेना कर्मियों की मौत हो गई थी.

वहीं भारतीय वायुसेना (IAF) प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया से एक सवाल किया गया कि क्या पाकिस्तान भारत द्वारा अपने पायलटों से की जाने वाली बातचीत को जाम कर सकेगा, जिस तरह उसने विंग कमांडर अभिनंदन वर्द्धमान के मामले में किया था, इस पर उन्होंने कहा कि कहा, "हमने सुरक्षित रेडियो संचार सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाए हैं. वे अब हमारी बातचीत नहीं सुन पाएंगे'


वायु सेना प्रमुख ने कहा कि भारतीय वायुसेना किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार है. उन्‍होंने कहा कि राफेल लड़ाकू विमान और एस-400 वायु रक्षा प्रणालियों की खरीद भारतीय वायुसेना की परिचालन क्षमताओं को काफी बढ़ाएगी. उन्‍होंने कहा कि भारतीय वायु सेना की अभियान संबंधी तैयारी बेहद उच्च स्तरीय हैं. हम पूर्व की उपलब्धियों तक ही सीमित नहीं रहते. वायु सेना प्रमुख ने कहा कि भारतीय वायुसेना ने पिछले साल बालाकोट हमले समेत अभियान संबंधी कई उपलब्धियां हासिल कीं. 30 सितंबर, 2019 को राकेश कुमार सिंह भदौरिया वायु सेना के प्रमुख बने हैं.

वायुसेना प्रमुख बोले- जरूरत पड़ने पर फिर होगा बालाकोट जैसा हमला​

अन्य खबरें :

IAF चीफ बोले- हम घटनाक्रम पर नजर रख रहे हैं, बालाकोट जैसे हमले के लिए तैयार

टिप्पणियां

नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्‍तान के आतंकी लॉन्चिंग पैड पर 450-500 आतंकी हैं मौजूद : सेना के सूत्र

सेना प्रमुख बिपिन रावत बोले- बालाकोट में फिर सक्रिय हुए आतंकी, हम Ceasefire के उल्लंघन से निपटना जानते हैं



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement