कोरोनावायरस के कहर के बीच इस बार ऐसे मनाया जाएगा 15 अगस्त, लाल किले पर हो रहीं ऐसी तैयारियां

15 अगस्त यानी स्वतंत्रता दिवस में बस तीन दिन रह गए हैं लेकिन इस बार कोरोनावायरस के चलते सबकुछ बहुत अलग रहने वाला है. कोविड-19 के बीच लालकिले पर होने वाले 15 अगस्त के कार्यक्रम के लिए तैयारियां चल रही हैं. जानकारी है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाल किले पर झंडा फहराने के लिए सुबह करीब 7.21 बजे लालकिले के फोरग्राउंड में आएंगे.

कोरोनावायरस के कहर के बीच इस बार ऐसे मनाया जाएगा 15 अगस्त, लाल किले पर हो रहीं ऐसी तैयारियां

कोरोनावायरस के चलते इस बार का स्वतंत्रता दिवस समारोह बहुत अलग रहने वाला है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • इस बार काफी अलग होगा स्वतंत्रता दिवस समारोह
  • कोविड-19 गाइडलाइंस के तहत हो रही तैयारियां
  • पहली बार इतना कम होगा जमावड़ा
नई दिल्ली:

15 अगस्त यानी स्वतंत्रता दिवस में बस तीन दिन रह गए हैं लेकिन इस बार कोरोनावायरस के चलते सबकुछ बहुत अलग रहने वाला है. कोविड-19 के बीच लालकिले पर होने वाले 15 अगस्त के कार्यक्रम के लिए तैयारियां चल रही हैं. जानकारी है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाल किले पर झंडा फहराने के लिए सुबह करीब 7.21 बजे लालकिले के फोरग्राउंड में आएंगे. प्रधानमंत्री सुबह 7.30 बजे तिरंगा फहराएंगे. पीएम का भाषण 45 मिनट से लेकर डेढ़ घंटे का हो सकता है.

इस बार भी थल सेना, वायुसेना और नौसेना के जवान गार्ड ऑफ ऑनर देंगे जिसमें करीब 22 जवान और अफसर होंगे. वहीं, राष्ट्रीय सैल्यूट में 32 जवान और अफसर होंगे. साथ में दिल्ली पुलिस के जवान भी होंगे. कोरोना की वजह से ये जवान चार लाइनों में खड़े होंगे और सोशल डिस्टेंसिंग नियमों को बनाए रखेंगे. बता दें कि लाल किले पर होने वाले कार्यक्रम में वही जवान होंगे जिन सबके कोविड टेस्ट नेगेटिव आए हैं या फिर कोरोना को हराकर आए हैं. सलामी देने वाले जवानों को एहतियातन पहले से ही क्वारन्टीन कर दिया गया है.

इस बार नीचे फोरग्राउंड पर इस साल स्कूली बच्चे नही होंगे. पहले 3,500 स्कूली बच्चे होते थे, अब केवल एनसीसी के 500 बच्चे ही होंगे. इनके बीच 6 फ़ीट की दूरी होगी. इसी तरह रेम्पैड पर भी दोनों तरफ करीब 120 गेस्ट होंगे. पहले 300 से 500 गेस्ट होते थे. अब कई गेस्ट रेमेपैड से फोरग्राउंड पर कुर्सी पर बैठेंगे.

यह भी पढ़ें: 15 अगस्त : इस बार PM मोदी क्या बोलेंगे? पिछली बार अनुच्छेद 370, और तीन तलाक का था जिक्र

प्रधानमंत्री के करीब जाकर फ़ोटो लेने वाले फोटोग्राफर का भी कोरोना टेस्ट होगा. नेगेटिव आने पर ही उसे फोटोग्राफी करने का मौका मिलेगा. पिछले साल की तुलना में इस बार मीडिया भी ना के बराबर होगी. एजेंसी और सरकारी मीडिया को छोड़कर किसी भी प्राइवेट मीडिया के कैमरे नही होंगे. केवल फोरग्राउंड में सीमित संख्या में पत्रकारों को रिपोर्टिंग करने के लिए पास जारी किया गया है.

बता दें कि पिछले हफ्ते जानकारी मिली थी कि इस समारोह में इंडियन आर्मी, इंडियन एयरफोर्स, इंडियन नेवी और दिल्ली पुलिस के जितने भी अधिकारी रहेंगे. उनके ड्राइवर, ऑपरेटर, कुक, बस ड्राइवर, परेड ट्रेनर और बाकी स्टाफ को 15 अगस्त तक के लिए क्वारंटीन किया गया है. इस क्वारंटीन पीरियड के दौरान केवल परेड से जुड़े सभी अधिकारी और उनका स्टाफ केवल परेड रिहर्सल और परेड से जुड़ी तैयारी में हिस्सा लेगा और सीधे अपने घर जाएगा. दिल्ली पुलिस के स्टाफ को मौखिक तौर पर भी यह आदेश दे दिया गया है.

Video: 15 अगस्त को लेकर रची जा रही है साजिश, आई धमकी भरी कॉल


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com