लद्दाख में LAC से पूरी तरह पीछे हटने के चीन के दावे पर भारत ने दिया जवाब

चीन का दावा- गलवान घाटी, हॉट स्प्रिंग्स और कोंका पास पर डिसइंगेजमेंट पूरा कर लिया, भारत ने कहा- पूर्वी लद्दाख से सैनिकों के पीछे हटने की प्रक्रिया अभी पूरी नहीं हुई

लद्दाख में LAC से पूरी तरह पीछे हटने के चीन के दावे पर भारत ने दिया जवाब

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

भारत ने गुरुवार को साफ कहा कि अभी लद्दाख (Ladakh) में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर सेनाओं के पीछे हटने की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है. असल में बुधवार को चीन (China) के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा था कि दोनों देशों की सेनाओं ने तीन जगहों- गलवान घाटी, हॉट स्प्रिंग्स और कोंका पास पर डिसइंगेजमेंट पूरा कर लिया है और सिर्फ पैंगांग लेक में पीछे हटना बाकी है. लेकिन भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने एक सवाल के जवाब में कहा कि पूरी तरह पीछे हटने की सहमति पर कुछ काम हुआ है लेकिन यह प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है. 

अनुराग श्रीवास्तव ने एक बार फिर दोनों देशों के बीच हुई सैन्य और कूटनीतिक बातचीत की याद दिलाई और कहा कि कि सीमा पर शांति द्विपक्षीय रिश्तों का आधार है.

उल्लेखनीय है कि दो दिन पहले ही आई कुछ खबरों में चीन ने कथित तौर पर दावा किया था कि अग्रिम मोर्चे से दोनों देशों के सैनिकों के पीछे हटने की कवायद सीमा पर अधिकतर स्थानों पर पूरी हो गई है. चीन ने यह भी कहा था कि जमीन पर हालात सामान्य हो रहे हैं.

भारत-चीन के बीच कोर कमांडर स्तर की पांचवें दौर की वार्ता अगले सप्ताह संभव

Newsbeep

अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि दोनों सेनाओं के वरिष्ठ कमांडर निकट भविष्य में बैठक करेंगे ताकि पीछे हटने की प्रक्रिया को पूरा करने की दिशा में उठाए जाने वाले कदमों पर चर्चा की जा सके. उन्होंने कहा कि ‘‘जैसा कि हमने पहले ही कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति बनाए रखना हमारे द्विपक्षीय संबंधों का आधार है. ''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा ‘‘इसलिए हम उम्मीद करते हैं कि चीनी पक्ष यथाशीघ्र पूरी तरह से पीछे हटने, तनाव कम करने तथा सीमावर्ती क्षेत्र में पूरी तरह से शांति बहाल करने के लिए हमारे साथ गंभीरता से काम करेगा जिस पर हमारे विशेष प्रतिनिधियों के बीच सहमति बनी थी. ''
(इनपुट भाषा से भी)