भारत ने एंटी सबमरीन सुपरसोनिक मिसाइल 'SMART' का किया सफल परीक्षण, वॉरशिप पर होगी तैनात

भारत ने सोमवार को सुपरसोनिक मिसाइल असिस्टेड रिलीज़ ऑफ टॉरपीडो (SMART) का सफलतापूर्वक फ्लाइट-टेस्ट किया. यह परीक्षण ओडिशा के तटीय इलाके में व्हीलर आईलैंड से किया गया है.

भारत ने एंटी सबमरीन सुपरसोनिक मिसाइल 'SMART' का किया सफल परीक्षण, वॉरशिप पर होगी तैनात

एंटी-सबमरीन मिसाइल SMART का सफल परीक्षण.

नई दिल्ली:

भारत ने सोमवार को सुपरसोनिक मिसाइल असिस्टेड रिलीज़ ऑफ टॉरपीडो (SMART) का सफलतापूर्वक फ्लाइट-टेस्ट किया. यह परीक्षण ओडिशा के तटीय इलाके में व्हीलर आईलैंड से किया गया है. परीक्षण के दौरान मिसाइल की रेंज, एल्टीट्यूड, नोज़ कोन के अलग होने की प्रक्रिया, टॉरपीडो को छोड़ने की क्षमता और VRM (Velocity Reduction Mechanism) पर स्थापित करने की प्रक्रिया सहित सभी पैमाने सही पाए गए.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने Defence Research and Development Organisation (DRDO) को इस सफलता पर बधाई दी है. उन्होंने एक ट्वीट कर लिखा, 'DRDO ने Supersonic Missile assisted release of Torpedo, SMART का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है. यह एंटी-सबमरीन वॉरफेयर में भारत की स्टैंड-ऑफ क्षमता बढ़ाने की दिशा में बहुत बड़ा तकनीकी कदम है. मैं DRDO और दूसरे भागीदारों को इस उपलब्धि के लिए बधाई देता हूं.'

बता दें कि SMART एंटी-सबमरीन वॉरफेयर (ASW) में इस्तेमाल होने वाला टॉरपीडो सिस्टम का हल्का रूप है. इसे टॉरपीडो की रेंज से ज्यादा रेंज वाले ऑपरेशन में इस्तेमाल किया जाएगा. यह लॉन्च एंटी सबमरीन वॉरफेयर में बढ़ती क्षमता बढ़ाने के लिए अहम है.

यह भी पढ़ें: DRDO ने लेजर निर्देशित टैंक भेदी मिसाइल का किया सफल परीक्षण

इसपर बोलते हुए DRDO के चेयरमैन डॉक्टर जी सतीश रेड्डी ने कहा, 'SMART, ASW के क्षेत्र में गेम-चेंजर है.' इस इवेंट को तट से और डाउन रेंज के जहाजों सहित टेलीमेट्री स्टेशन और ट्रैकिंग स्टेशन (रडार, इलेक्ट्रो ऑप्टिकल सिस्टम) से मॉनिटर किया गया. SMART के लिए आवश्यक तकनीकियों को DRDO की लैब्स, जिसमें DRDL RCI हैदराबाद, ADRDE आगरा, NSTL विशाखापट्टनम शामिल हैं, ने मिलकर तैयार किया है.

Video: भारत ने हाइपरसोनिक व्‍हीकल का किया सफल परीक्षण

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com