J&K बैंक लोन फर्जीवाड़ा केस : पंजाब और जम्मू-कश्मीर में 9 जगह ED की छापेमारी

मामला जम्मू-कश्मीर बैंक से जुड़े लोन फर्जीवाड़े का है. इस संबंध मेंजम्मू कश्मीर के पूर्व वित्त मंत्री अब्दुल रहीम राथर के बेटे हिलाल राथर के खिलाफ कार्रवाई चल रही है.

J&K बैंक लोन फर्जीवाड़ा केस : पंजाब और जम्मू-कश्मीर में 9 जगह ED की छापेमारी

नई दिल्ली:

केंद्रीय जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय (ED) की टीम की ओर से पंजाब के लुधियाना सहित जम्मू-कश्मीर के कुल 9 लोकेशन पर छापेमारी चल रही है. मामला जम्मू-कश्मीर बैंक से जुड़े लोन फर्जीवाड़े का है. जम्मू-कश्मीर बैंक के कई संदिग्ध अधिकारी के खिलाफ दर्ज मामले में आज यह छापेमारी चल रही है.जम्मू-कश्मीर के एक पूर्व मंत्री के बेटे हिलाल राठेर के खिलाफ कथित बैंक धोखाधड़ी से संबंधित धन शोधन के मामले में ईडी ने यह छापेमारी की है. अधिकारियों ने बताया कि कश्मीर, जम्मू, दिल्ली और लुधियाना में 16 जगह छापेमारी की गई. ईडी ने 177 करोड़ रुपये के कथित बैंक धोखाधड़ी मामले में सीबीआई की प्राथमिकी और आयकर विभाग की जांच का संज्ञान लेते हुए राठेर और अन्य के खिलाफ धनशोधन अधिनियम (पीएमएलए) के तहत एक मामला दर्ज किया है.

छापेमारी का मकसद और सबूत जुटाना है.सीबीआई का आरोप है कि हिलाल राठेर ने नियमों और दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करते हुए 177.68 करोड़ रुपये (लगभग) का ऋण प्राप्त करने के लिए जम्‍मू एंड कश्‍मीर बैंक के तत्कालीन अधिकारियों के साथ मिलकर आपराधिक साजिश रची. हिलाल के पिता अब्दुल रहीम राठेर तत्कालीन जम्मू-कश्मीर राज्य के वित्तमंत्री रह चुके हैं. वह नेशनल कांफ्रेंस के नेता हैं. 

सीबीआई का आरोप है, ''आरोपी ने अपने कर्मचारियों के बैंक खातों का इस्तेमाल कर फ्लैट के निर्माण के लिये दिये गए कर्ज को कथित रूप से किसी और काम में इस्तेमाल किया.'' जांच एजेंसी के अनुसार आरोपी ने बैंक में झूठे प्रमाण पत्र और बिल जमा कराए. सीबीआई ने इस साल मार्च में जम्मू की एक विशेष अदालत के समक्ष दायर आरोप पत्र में हिलाल के अलावा जे एंड के बैंक के शाखा प्रमुखों इकबाल सिंह और अरुण कपूर को भी नामजद किया था.(भाषा से भी इनपुट)

Newsbeep

सुशांत मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्डरिंग का केस दर्ज किया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com