NDTV Khabar

रंजन गोगोई होंगे भारत के अगले मुख्‍य न्‍यायाधीश, 3 अक्‍टूबर को संभालेंगे कार्यभार : सूत्र

कानून मंत्रालय के लिए यह परिपाटी रही है कि वह मुख्‍य न्‍यायाधीश को पत्र लिखकर पूछे कि उनका उत्तराधिकारी कौन होगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रंजन गोगोई होंगे भारत के अगले मुख्‍य न्‍यायाधीश, 3 अक्‍टूबर को संभालेंगे कार्यभार : सूत्र

जस्टिस रंजन गोगोई (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

सुप्रीम कोर्ट में दूसरे सबसे वरिष्‍ठ जज जस्टिस रंजन गोगोई, 3 अक्‍टूबर को भारत के अगले मुख्‍य न्‍यायाधीश का पदभार ग्रहण करेंगे, सूत्रों ने NDTV को यह जानकारी दी है. सूत्रों ने बताया कि जजों की वरिष्‍ठता की परंपरा को कायम रखते हुए मुख्‍य न्‍यायाधीश दीपक मिश्रा जल्‍द ही अपने उत्तराधिकारी के रूप में जस्टिस गोगोई के नाम का प्रस्‍ताव करेंगे. सूत्रों के अनुसार जस्टिस गोगोई अगले साल 17 नवंबर तक मुख्‍य न्‍यायाधीश रहेंगे. कुछ दिन पहले ही कानून मंत्रालय ने मुख्‍य न्‍यायाधीश दीपक मिश्रा से अपने उत्तराधिकारी के नाम की अनुशंसा करने को कहा था जिसके बाद ये घटनाक्रम सामने आया है. कानून मंत्रालय के लिए यह परिपाटी रही है कि वह मुख्‍य न्‍यायाधीश को पत्र लिखकर पूछे कि उनका उत्तराधिकारी कौन होगा.

जस्टिस रंजन गोगोई उन चार जजों में शामिल थे जिन्‍होंने जनवरी महीने में मुख्‍य न्‍यायाधीश जस्टिस दीपक मिश्रा की एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में यह कहते हुए आलोचना की थी कि वह मामलों के आवंटन में सुप्रीम कोर्ट के मास्‍टर ऑफ द रोस्‍टर होने के अपने अधिकार का दुरुपयोग कर रहे हैं. वतर्मान में वह असम के नेशनल रजिस्‍टर ऑफ सिटिजन (एनआरसी) मामले की सुनवाई कर रहे हैं.


जस्टिस गोगोई के नाम की औपचारिक घोषणा तब हो सकती है जब मुख्‍य न्‍यायाधीश जस्टिस दीपक मिश्रा कानून मंत्रालय के पत्र का जवाब देंगे. वह 2 अक्‍टूर को रिटायर हो रहे हैं और कम से कम उसके एक महीने पहले उन्‍हें अपना उत्तराधिकारी तय करना होगा.

टिप्पणियां

2012 में सुप्रीम कोर्ट के जज बने जस्टिस गोगोई को मृदुभाषी लेकिन बेहद सख्‍त जज के रूप में जाना जाता है.

VIDEO: न्यायपालिका की स्वतंत्रता को कैसा ख़तरा?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement