CAB पर कैलाश विजयवर्गीय का ममता बनर्जी पर पलटवार, बोले- वह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री हैं, बांग्लादेश की नहीं

बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, 'संघीय ढांचे में बनर्जी भला कैसे कह सकती हैं कि वो इस कानून (नागरिकता संशोधन विधेयक) को पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होने देंगी. वो पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री हैं, बांग्लादेश की नहीं.'

CAB पर कैलाश विजयवर्गीय का ममता बनर्जी पर पलटवार, बोले- वह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री हैं, बांग्लादेश की नहीं

बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय पश्चिम बंगाल के प्रभारी हैं

खास बातें

  • कैलाश विजयवर्गीय ने CM ममता बनर्जी पर किया पलटवार
  • CAB और NRC के मुद्दे पर ममता बनर्जी पर कसा तंज
  • बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय पश्चिम बंगाल के हैं प्रभारी
इंदौर:

नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB) और राष्ट्रीय नागरिक पंजीकरण (NRC) को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के तीखे विरोध पर बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) ने  पलटवार किया है. विजयवर्गीय ने सीएम पर तंज कसते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख बांग्लादेश की मुख्यमंत्री नहीं हैं. कैलाश विजयवर्गीय ने इंदौर में पत्रकारों से बातचीत में कहा, 'मुझे पता नहीं कि ममता बनर्जी ने भारत का संविधान पढ़ा भी है या नहीं? भारत में संघीय ढांचे के तहत केंद्र और राज्य सरकारें अपनी जिम्मेदारियों का अलग-अलग निर्वहन करती हैं. नागरिकता के संबंध में कानून बनाकर इसे संसद में पारित करना केंद्र सरकार का काम है.'

पश्चिम बंगाल के प्रभारी बीजेपी महासचिव विजयवर्गीय ने आगे कहा, 'संघीय ढांचे में बनर्जी भला कैसे कह सकती हैं कि वो इस कानून (नागरिकता संशोधन विधेयक) को पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होने देंगी. वो पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री हैं, बांग्लादेश की नहीं.' बता दें कि सीएम ममता बनर्जी ने सोमवार को खड़गपुर में एक रैली में कहा था, 'एनआरसी और नागरिकता विधेयक से डरने की कोई जरूरत नहीं है. हम इसे पश्चिम बंगाल में कभी भी लागू नहीं करेंगे. वो इस देश के किसी वैध नागरिक को बाहर नहीं फेंक सकते, न ही उसे शरणार्थी बना सकते हैं.'

नागरिकता संशोधन बिल पर आया पाकिस्तान का रिएक्शन, भारत पर हमला साधते हुए कही ये बात

बीजेपी महासचिव ने ममता बनर्जी पर व्यंग्य करते हुए कहा, 'यदि इस तरह का बचकाना बयान कोई मुख्यमंत्री देता है, तो उसके सामान्य ज्ञान पर सिर्फ हंसा जा सकता है.' विजयवर्गीय ने यह भी कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक के लोकसभा में पारित होने के साथ ही देश की जनता के सामने बीजेपी के विपक्षी दलों के चेहरे भी बेनकाब हुए हैं जो तथाकथित धर्मनिरपेक्षता के नाम पर सत्ता की कुर्सी से चिपके हुए थे.

उन्होंने कांग्रेस पर सीधा हमला बोलते हुए कहा, 'धर्मनिरपेक्षता का राग अलापने वाली कांग्रेस ने इस विधेयक का पूरी ताकत से विरोध किया है. अब आप कांग्रेस की धर्मनिरपेक्षता देखिए कि केरल में वह मुस्लिम लीग से समझौता करती है, तो महाराष्ट्र में शिवसेना से हाथ मिलाकर सरकार बनाती है. कांग्रेस एक तरफ सरकार बनाने के लिए हिंदू अतिवादियों से समझौता करती है. दूसरी ओर, वह इस्लामी अतिवादियों से भी समझौता कर लेती है. दरअसल, सत्ता और कुर्सी के अलावा कांग्रेस की कोई विचारधारा ही नहीं है.'

VIDEO: CAB: प्रशांत किशोर के बाद अब पवन वर्मा भी नीतीश कुमार के फैसले से खुश नहीं



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com