वकील इंदिरा जयसिंह के निर्भया केस वाले बयान पर भड़की कंगना रनौत, बोलीं- ऐसी ही औरतों की कोख से निकलते हैं...

वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह (Indira Jaising) द्वारा निर्भया केस (Nirbhaya Case) में दोषियों को लेकर दिए बयान पर विवाद बढ़ता ही नजर आ रहा है.

वकील इंदिरा जयसिंह के निर्भया केस वाले बयान पर भड़की कंगना रनौत, बोलीं- ऐसी ही औरतों की कोख से निकलते हैं...

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत- फाइल फोटो

खास बातें

  • इंदिरा जयसिंह के बयान पर भड़की कंगना
  • बोलीं- ऐसी ही औरतों के कोख से निकलते हैं...
  • जयसिंह ने एक ट्वीट में लिखा था- उनके साथ, लेकिन फांसी की सजा के खिलाफ
नई दिल्ली:

वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह (Indira Jaising) द्वारा निर्भया केस (Nirbhaya Case) में दोषियों को लेकर दिए बयान पर विवाद बढ़ता ही नजर आ रहा है. बुधवार को बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने भी इंदिरा जयसिंह पर हमला बोला है. कंगना रनौत ने उन्हें यह तक कह डाला कि ऐसी ही औरतों की कोख से निकलते हैं वहशी-दरिंदे. कंगना रनौत ने यह बयान अपनी फिल्म 'पंगा' के प्रमोशन के दौरान एक पत्रकार के सवाल पर दिया. उन्होंने इवेंट के वक्त कहा, ''उस लेडी को उन लड़कों (निर्भया के दोषियों) के साथ चार दिन जेल में रखो. उनको रखना चाहिए, उसको जरूरत है. ऐसी-ऐसी औरतें होती हैं, जिनको दया आती है. ऐसी ही औरतों की कोख से निकलते हैं वहशी-दरिंदे. ये भी किसी के कोख से निकले हैं, उन्हीं की कोख ऐसी होती है. वह ऐसा सोचती हैं, जिनको वहसी और खूनियों पर सिम्पथी (सहानुभूति) और प्यार आता है.''

Nirbhaya Case: आखिरी ख्वाहिश को लेकर चुप्पी साधे हुए हैं निर्भया के चारों दोषी, एक फरवरी को होनी है फांसी

बता दें कि इस मामले में अलग-अलग क्षेत्रों से जुड़ी हस्तियां अपनी बात रख रही हैं. वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह (Indira Jaising) ने निर्भया (Nirbhaya Case) की मां आशा देवी (Asha Devi) से दोषियों को माफ करने की बात कही थी. जयसिंह ने एक ट्वीट करते हुए लिखा था कि वह उनसे (निर्भया की मां) सोनिया गांधी का उदाहरण लेने का अनुरोध करती हैं. सोनिया ने नलिनी (राजीव गांधी की हत्या की दोषी) को माफ कर कहा था कि वह उसके लिए फांसी की सजा नहीं चाहती हैं. जयसिंह ने उनसे कहा कि वह उनके साथ हैं लेकिन फांसी की सजा के खिलाफ हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

दावोस में बोले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप- भारत और चीन ने उठाया 'विकासशील देश' होने का पूरा फायदा

जिसके बाद आशा देवी ने इस बारे में कहा था कि इंदिरा जयसिंह कौन होती हैं उन्हें यह सुझाव देने वालीं. पूरा देश चाहता है कि दोषियों को फांसी की सजा मिले. उनके जैसे लोगों की वजह से रेप पीड़िताओं को न्याय नहीं मिल पाता है. उन्होंने आगे कहा, 'मुझे यकीन नहीं हो रहा है कि इंदिरा जयसिंह ने ऐसा कहने की हिम्मत कैसे की. मैं उनसे सुप्रीम कोर्ट में कई बार मिली हूं. उन्होंने एक बार भी मुझसे मेरा हालचाल नहीं पूछा और आज वो दोषियों के पक्ष में बोल रही हैं. इस तरह के लोग रेपिस्ट को सपोर्ट करके अपना गुजारा करते हैं. यही वजह है कि रेप के मामले नहीं रुक रहे हैं.'