NDTV Khabar

कर्नाटक निकाय चुनाव: कर्नाटक BJP अध्यक्ष ने मानी हार, कहा- हां हम कांग्रेस-JDS गठबंधन से हार गए

कर्नाटक के शहरी निकाय चुनावों में में कांग्रेस के 2,306 उम्मीदवार, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 2,203 और जनता दल-सेकुलर (जेडी-एस) के 1,397 मैदान में हैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कर्नाटक निकाय चुनाव: कर्नाटक BJP अध्यक्ष ने मानी हार, कहा- हां हम कांग्रेस-JDS गठबंधन से हार गए

कर्नाटक में सोमवार को 105 शहरी स्थानीय निकायों (यूएलबी) के लिए मतों की गिनती सुबह 8 बजे से शुरू हो गई

खास बातें

  1. मतों की गिनती सुबह 8 बजे से शुरू हो गई है
  2. कुल 8,340 उम्मीदवार मैदान में हैं
  3. शहरी निकाय चुनावों में कांग्रेस के 2,306 उम्मीदवार मैदान में हैं
नई दिल्ली: कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बाद अब बीजेपी को शहरी स्थानीय निकाय चुनावों में भी निराशा हाथ लगी है. अभी तक घोषित 2670 सीटों के नतीजों में कांग्रेस को बढ़त है. कांग्रेस ने अब तक 988 सीटें और बीजेपी ने 929 सीटें जीती हैं. वहीं, जेडीएस के खाते में 375 सीटें आईं हैं और निर्दलीय उम्मीदवार 378 सीट जीतने में सफल हुए हैं. राज्य सरकार में गठबंधन में होने के बावजूद कांग्रेस और जेडीएस ने अलग-अलग चुनाव लड़ा था, लेकिन उन्होंने पहले ही ऐलान कर दिया कि वे शहरी निकाय चुनावों के बाद गठबंधन करेंगे. कांग्रेस और जेडीएस ने मिलकर 1,363 सीटें जीती हैं, जिसके साथ उन्हें स्पष्ट तौर पर भाजपा पर बढ़त और यूएलबी की अधिकतम सीटों पर कब्जा मिल गया है. यह चुनाव कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार के लिए परीक्षा मानी जा रही थी. कर्नाटक बीजेपी अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि नतीजे उम्मीदों से ज्यादा खराब हैं. उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार की वजह से पार्टी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाई. हालांकि उन्होंने यह भी यकीन जताया कि लोकसभा चुनाव का परिणाम इससे काफी अलग होगा और बीजेपी बहुमत से जीतेगी. 

बता दें कि चुनाव में कुल 8,340 उम्मीदवार मैदान में थे. शहरी निकाय चुनावों में कांग्रेस के 2,306 उम्मीदवार, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 2,203 और जनता दल-सेकुलर (जेडी-एस) के 1,397 मैदान में थे. वहीं, 814 शहर निगमों में चुनाव लड़ रहे हैं, जिनमें कांग्रेस से 135, भाजपा से 130 और जेडी-एस से 129 उम्मीदवार शामिल हैं. साल 2013 में 4,976 सीटों पर शहरी निकाय चुनाव हुए थे. कांग्रेस ने 1,960 सीटें जीती थीं, जबकि बीजेपी और जेडी-एस ने दोनों ने 905 सीटें जीती थीं और निर्दलियों ने 1,206 सीटें जीती थीं. 

मिजोरम में चुनाव में जीत के बाद सत्ता के लिए साथ आई बीजेपी और कांग्रेस
 

कर्नाटक शहरी स्थानीय निकाय चुनावों की मतगणना LIVE UPDATES


- कांग्रेस ने अब तक 988 सीटें और बीजेपी ने 929 सीटें जीती हैं. वहीं, जेडीएस के खाते में 378 सीटें आईं हैं.  

- कर्नाटक बीजेपी अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि नतीजे उम्मीद से ज्यादा खराब हैं. उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार की वजह से पार्टी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाई. हालांकि उन्होंने यह भी यकीन जताया कि लोकसभा चुनाव का परिणाम इससे काफी अलग होगा और बीजेपी बहुमत से जीतेगी. 

-  कांग्रेस ने अब तक 966 सीटों पर जीत दर्ज की वहीं, बीजेपी को 910 सीटों पर जीत मिली. वहीं, जेडीएस अब तक 373 सीट जीतने में कामयाब रही है. 

-  कांग्रेस, जेडीएस की जीत के जश्न में रंग में भंग तब हुआ जब तुमकुर में जश्न के दौरान किसी ने कम शक्तिशाली तेज़ाब भीड़ पर फेंक दिया. इसमें 10 लोग मामूली तौर पर घायल हो गए.

-शहरी नगर स्‍थानीय निकाय चुनावों की 2662 सीटों के नतीजे आ गए हैं. बीजेपी 929, कांग्रेस 982, जेडीएस 375, बीएसपी 13 और अन्‍य 329 सीटों पर चुनाव जीते हैं. 

- दोपहर 3 बजकर 20 मिनट तक कर्नाटक शहरी निकाय चुनावों के नतीजे
 
gutjmh88


- शहरी के शहरी नगर स्‍थानीय निकाय चुनावों की  2709 सीटों में से 2661 पर नतीजे आए. बीजेपी 929, कांग्रेस 982, जेडीएस 375, बीएसपी 13 और अन्‍य 328 सीटों पर चुनाव जीते 

- मैसूर नगर निगम चुनाव में बीजेपी 22 सीटें जीतकर बनी सबसे बड़ी पार्टी. कांग्रेस ने 19 और जेडीएस ने 17 सीटों पर जीता चुनाव. वहीं अन्‍य ने छह सीटों पर जीत दर्ज की. 

- परिणाम अभी तक

सिटी काउंसिल - 29
बीजेपी - 10
कांग्रेस - 5
जेडीएस - 3

नगर पालिका - 53
कांग्रेस - 19
बीजेपी - 12
जेडीएस - 8

टाउन पंचायत - 20
कांग्रेस - 7
बीजेपी - 7
जेडीएस - 2

- कर्नाटक शहरी स्थानीय निकाय चुनावों की 2474 सीटों में से 2709 सीटों के परिणाम घोषित. बीजेपी ने 861, कांग्रेस ने 925 और जेडीएस ने 337 सीटों पर चुनाव जीता. 


- बीजेपी उम्मीदवार वीरप्पा सरंगवार ने बागलकोटे नगरपालिका परिषद के वार्ड नंबर 19 से चुनाव जीतने के बाद शर्ट उतारकर लहराई 
 
- कर्नाटक शहरी स्थानीय निकाय चुनाव परिणाम पर लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि कांग्रेस पीछे नहीं है कांटे की टक्कर है, और अगर आप धर्मनिरपेक्ष वोटों को जोड़ लें, तो वे सबसे ज़्यादा हैं. ये चुनाव छोटे मुद्दों पर स्थानीय प्रत्याशियों द्वारा लड़े गए थे, और इनका बहुत ज़्यादा महत्व नहीं है."

 
- कांग्रेस-जेडीएस तुमकुरु नगर निगम में काबिज होने के करीब. यहां से कांग्रेस ने 10 सीटें जीती और जेडीएस ने आठ सीटों पर जीत दर्ज की है. वहीं बीजेपी ने 11 सीटें जीती हैं. निर्दलीय उम्मीदवारों ने 2 सीटें जीती हैं. 35 सीटों के लिए गिनती चल रही है.

- मैसूर नगर निगम में 17 सीटें जीतकर बीजेपी सबसे आगे. वहीं कांग्रेस ने 10 और जेडीएस ने 11 सीटों पर जीत हासिल की. वहीं चार सीटों पर निर्दलीय उम्‍मीदवार चुनाव जीते हैं. यहां अभी 65 सीटों के लिए मतगणना चल रही है.

- कर्नाटक की 102 शहरी स्थानीय निकायों की 2,664 सीटों में से 2,267 परिणामों की घोषणा हो चुके हैं. अब तक के नतीजों में कांग्रेस ने 846, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने 788, जेडीएस ने 307 सीटों पर चुनाव जीत लिया है. वहीं 277 सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशी विजयी हुए हैं.

- कर्नाटक में 31 अगस्त को हुए 102 शहरी स्थानीय निकायों की 2,664 सीटों में से 1,412 परिणामों की घोषणा हो गई है. कांग्रेस ने 560, BJP ने 499, JDS ने 178 सीटें जीती हैं, तथा 150 सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशी विजयी हुए हैं.

- राज्य की 29 नगरपालिकाओं, 53 टाउन नगर पालिकाओं और 23 टाउन पंचायतों के 2,633 वार्डो में और तीन नगर निगमों के 135 वार्डो में मतदान हुआ. 

- निकाय चुनावों के लिए राज्य में 67.5 प्रतिशत मतदाताओं मे मतदान हुआ था  

- सभी वाडरें में मतदान के लिए इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) का इस्तेमाल किया गया था. 

- शहरी स्थानीय निकाय चुनाव के लिए कुल 36 लाख मतदाताओं ने पंजीकरण कराया और 13.33 लाख मतदाता तीन शहरों मैसूर, शिमोगा और तुमकुरू के थे.  

टिप्पणियां

VIDEO: गुजरात निकाय चुनाव नतीजों में बीजेपी को नुकसान


 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement