मथुरा की धरती अहंकार को तोड़ती है, किसान हक मांग रहे लेकिन सरकार ने उनकी पिटाई की : प्रियंका गांधी वाड्रा

प्रियंका ने कहा कि यहां 90 दिनों से किसान अपने अधिकारों की मांग कर रहे हैं लेकिन सरकार ने उनकी पिटाई की लेकिन उनकी सुनवाई नहीं की. प्रधानमंत्री जो दुनिया के हर कोने तक घूम आए पर वो दिल्ली के बार्डर तक नहीं पहुंच पाए.'

मथुरा की धरती अहंकार को तोड़ती है, किसान हक मांग रहे लेकिन सरकार ने उनकी पिटाई की : प्रियंका गांधी वाड्रा

प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा, ब्रज क्षेत्र की गौशालाओं का बुरा हाल है, यहां गौवंश को न चारा मिल रहा है न पानी.

मथुरा :

'ये मथुरा की धरती अहंकार को तोड़ती है. यहां श्री कृष्ण जी इंद्र भगवान के अहंकार को तोड़ने के लिए गोवर्धन पर्वत लेकर आए थे. यहां 90 दिनों से किसान अपने अधिकारों की मांग कर रहे हैं लेकिन सरकार ने उनकी पिटाई की लेकिन उनकी सुनवाई नहीं की. प्रधानमंत्री जो दुनिया के हर कोने तक घूम आए पर वो दिल्ली के बार्डर तक नहीं पहुंच पाए.' यह बात कांग्रेस की राष्‍ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi vadra) ने मथुरा में एक किसान महापंचायत  को संबोधित करते हुए व्‍यक्‍त किए. कांग्रेस महासचिव ने कहा, 'दिनकर ने कहा था “ जब नाश मनुष्य पर छाता है तो पहले विवेक मर जाता है”. भगवान इनका अहंकार तोड़ेंगे. यहां आलू किसानों का बुरा हाल था. पिछले साल गन्ने का भुगतान 15000 करोड़ रुपये है लेकिन प्रधानमंत्री ने अपने लिए 16000 करोड़ के दो जहाज़ खरीदे.

डेढ़ घंटे तक नाविक परिवारों का दर्द बांटती रहीं प्रियंका गांधी, महिलाओं संग जमीन पर बैठी रहीं

प्रियंका ने कहा कि आवारा पशुओं से किसान प्रताड़ित हो चुका है. ब्रज क्षेत्र की गौशालाओं का बुरा हाल है, यहां पर गौवंश को न चारा मिल रहा है पानी. सरकार ने गौशालाओं के नाम पर 200 करोड़ आवंटित किए .. कहां हैं वो रूपए? अभी आगरा में कितने गौवंश मरे. कृषि कानूनों का जिक्र करते हुए कांग्रेस महासचिव ने कहा कि सरकार ने क़ानून बनाते वक्त किसी किसान से नहीं पूंछा. ये कानून नोटों की खेती करने वाले ने बनाया है. ये क़ानून उन खरबपतियों के लिए बनाया गया है.

प्रियंका गांधी का निशाना, बोलीं- हमारे प्रधानमंत्री भी अहंकारी राजा की तरह हो गए

प्रियंका ने कहा कि  'इनके' मित्रों के लाखों करोड़ों का क़र्ज़ माफ़ हुआ लेकिन किसान का एक रुपया माफ़ नहीं हुआ. आपकी सुनवाई नहीं हो रहा. आपका मज़ाक़ उड़ाया जा रहा है. उन्‍होंने कहा, 'डीज़ल पेट्रोल पर टैक्स लगाया जा रहा है. आपको दुख-दर्द को बांटने की बजाय आपकी भरे संसद में बेइज़्ज़ती की गई. आपको 'आंदोलनजीवी' बोला. मेरे भाई राहुल गांधी ने शहीद किसानों के लिए मौन रखने के लिए कहा. सारा विपक्ष खड़ा हुआ पर सरकार का एक नेता नहीं खड़ा हुआ.'

किसान पंचायत में बोलीं प्रियंका गांधी वाड्रा, 'आपका साथ नहीं छोड़ूंगी, मेरी जान, मेरा धर्म आप हैं'

उन्‍होंने कहा, 'प्रधानमंत्री पिछली सरकार को दोषी ठहराते हैं.शुक्र करिए कि पिछली सरकार ने कुछ बनाया था. आपने तो कुछ बनाया नहीं. जो पिछली सरकारों ने बनाया वो जनता के उद्योग इन्होंने बेच दिए. प्रियंका ने संघर्ष का जज्‍बा दिखाते हुए कहा, 'जब तक आप लड़ते रहेंगे तब तक मैं लड़ती रहूंगी. भगवान श्री कृष्ण इस सरकार का अहंकार तोड़ेंगे. इस सरकार का अहंकार हम तोड़ेंगे. संबोधन के आखिर में प्रियंका ने किसान आंदोलन में मारे गए किसानों के सम्‍मान में दो मिनट का मौन रखने का आग्रह किया.


किसानों को राजनाथ सिंह पर भरोसा : नरेश टिकैत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com