NDTV Khabar

रांची की होटवार जेल में इस बार लालू यादव बने कैदी नंबर 3351, 10x12 के कमरे में दी गई हैं ये चीजें

लालू को जेल के अपर डिवीजन वार्ड में रखा गया है. लंबे-चौड़े आलीशान बंगले में रहने वाले लालू को यहां 10×12 का कमरा मिला है. कमरे के साथ बाथरूम अटैच है.

859 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
रांची की होटवार जेल में इस बार लालू यादव बने कैदी नंबर 3351, 10x12 के कमरे में दी गई हैं ये चीजें

लालू यादव एक बार फिर रांची की होटवार जेल (बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा) पहुंच गए हैं

खास बातें

  1. 2013 में भी इस जेल में रह चुके हैं लालू प्रसाद यादव
  2. लालू को यहां 10×12 का कमरा मिला है, जिसमें बाथरूम अटैच है
  3. इस कमरे में टीवी और टेबल-कुर्सी भी है
रांची: चारा घोटाला मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव एक बार फिर होटवार जेल पहुंच गए हैं. रांची की होटवार जेल (बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा) लालू के लिए नई जगह नहीं है. पहले भी वह चारा घोटाला मामले में इस जेल में रह चुके हैं. सबसे खास बात यह है कि इस जेल के साथ लालू यादव का संख्या 3 का खास रिश्ता है. इस बार उन्हें होटवार जेल में कैदी नंबर 3351 मिला है, जबकि इससे पहले जब वह 30 सितंबर, 2013 को चारा घोटाला मामले में होटवार जेल गए थे, तब उन्हें कैदी नंबर 3312 मिला था. इतना ही नहीं चारा घोटाले में उन्हें संख्या 3 सबसे ज्यादा परेशान कर रही है. 2013 में जब वह होटवार जेल आए थे उस दिन 30 तारीख थी. आज दूसरी बार 23 दिसंबर को जेल गए हैं. सबसे अहम बात की जिस दिन उन्हें सजा सुनाया जाएगा, वह दिन भी 3 जनवरी होगी.

चारा घोटाले में दोषी करार दिए गए लालू ने कहा, 'ना जोर चलेगा लाठी का, लालू लाल है माटी का'

लालू को जेल के अपर डिवीजन वार्ड में रखा गया है. लंबे-चौड़े आलीशान बंगले में रहने वाले लालू को यहां 10×12 का कमरा मिला है. कमरे के साथ बाथरूम अटैच है. इस कमरे में टीवी भी उपलब्ध है, जिस पर सिर्फ दूरदर्शन चैनल ही चल सकता है. लालू को सोने के लिए चौकी मिली है. चौकी के साथ एक गद्दा भी दिया गया है. तकिया, चादर और मच्छरदानी भी उपलब्ध कराई गई है. कमरे में टेबल और कुर्सी भी है. 3 जनवरी को सजा पर फैसला आने के बाद उन्हें जेल के कपड़े उपलब्ध कराए जाएंगे.

क्या है चारा घोटाला जिसने बिहार में लालू के एकछत्र राज पर हमेशा के लिए लगा दिया ग्रहण,15 खास बातें

गौरतलब है कि रांची की विशेष सीबीआई अदालत ने लालू यादव सहित 16 आरोपियों को दोषी करार दिया. वहीं इस मामले में अदालत ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र, बिहार के पूर्व मंत्री विद्यासागर निषाद सहित छह लोगों को निर्दोष करार देते हुए बरी कर दिया.

लालू पर कोर्ट के फैसले के बाद सुशील मोदी का ट्वीट, 'आज चारा, अगला 'लारा'?'

टिप्पणियां
लालू ने जेल जाने से पहले कहा कि उन्हें राजनीतिक साजिश के तहत फंसाया गया है और इस फैसले के खिलाफ वह हाईकोर्ट जाएंगे, जहां उन्हें अवश्य न्याय मिलेगा. उन्होंने कहा कि उन्हें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है.

950 करोड़ रुपये के चारा घोटाले से संबंधित देवघर कोषागार से 89 लाख, 27 हजार रुपये के फर्जीवाड़े के मामले से जुड़े इस मुकदमे में सीबीआई के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह ने शाम पौने चार बजे फैसला सुनाया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement