NDTV Khabar

Exclusive: NDTV से बोले रविशंकर प्रसाद, 'बेशर्म' हैं राहुल गांधी, उनका परिवार बिना किसी कमीशन के काम नहीं करता

NDTV से बात करते हुए रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को 'बेशर्म और गैरजिम्मेदार' बताया. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी का परिवार बिना किसी कमीशन के काम ही नहीं करता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Exclusive: NDTV से बोले रविशंकर प्रसाद, 'बेशर्म' हैं राहुल गांधी, उनका परिवार बिना किसी कमीशन के काम नहीं करता

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी को बेशर्म और गैरजिम्मेदार बताया.

खास बातें

  1. कानून मंत्री बोले, बेशर्म और गैरजिम्मेदार हैं राहुल गांधी
  2. पीएम के खिलाफ ऐसी भाषा का इस्तेमाल कभी नहीं हुआ
  3. राहुल आज जो कुछ भी हैं, अपने परिवार के कारण हैं
नई दिल्ली:

राफेल मुद्दे पर जारी घमासान के बीच केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी  पर जमकर हमला बोला.  NDTV से बात करते हुए रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को 'बेशर्म और गैरजिम्मेदार' बताया. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी का परिवार बिना किसी कमीशन के काम ही नहीं करता है. बता दें कि जबसे फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद का राफेल को लेकर बयान आया तबसे ही कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल सरकार के ऊपर हमलावर है.  राहुल गांधी पीएम मोदी पर लगातार हमाला बोल रहे हैं. राहुल ने तो यहां तक कहा कि देश का चौकीदार 'चोर' है.

यह भी पढ़ें : डसॉल्ट एविएशन के सीईओ का VIDEO ट्वीट कर कांग्रेस ने कहा- HAL के साथ तय हो चुकी थी डील, लेकिन....


रविशंकर प्रसाद ने कहा कि हमारा स्पष्ट आरोप है कि राहुल गांधी के परिवार को कमीशन नहीं मिला इसलिए यूपीए सरकार ने 2012 में राफेल डील रीविजीत किया था. उन्होंने कहा कि आजाद भारत में आज तक किसी राष्ट्रीय या क्षेत्रीय पार्टी ने नेता ने पीएम मोदी के खिलाफ ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं किया होगा. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी का परिवार बिना किसी कमीशन के काम नहीं करता, चाहे वह बोफोर्स हो, 2जी हो या फिर कोयला घोटाला हो. उन्होंने कहा कि राफेल डील 2012 में फाइनल किया गया था. फिर 5 महीने बाद रीविजीट क्यों किया गया. 

यह भी पढ़ें : 15 दिन में राफेल डील से HAL का नाम कैसे कटा?

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मैं राहुल गांधी से एक सवाल पूछना चाहता हूं कि, 'जनवरी 2012 में राफेल की डील को उनकी सरकार (मनमोहन सिंह की सरकार) ने फाइनल किया. 5 महीने बाद उसे रिवीजीट करने का फैसला क्यों किया. हमारा स्पष्ट कहना है कि राहुल गांधी के परिवार को कमीशन नहीं मिला इसलिए इसे रिवीजीट किया गया.' 

यह भी पढ़ें : जानिए राफेल डील में अनिल अंबानी की फर्म को क्यों दसॉल्ट ने चुनाः सूत्र

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी के पास कुछ तो गुण है नहीं, वह अपने परिवार के कारण उस जगह पर हैं. पर मैं उनकी परिस्थिति समझ सकता हूं. राहुल गांधी अपने बहनोई रॉबर्ट वाड्रा के कारण परेशान हैं. संजय भंडारी और रॉबर्ट वाड्रा के क्या संबंध हैं इसकी व्यापक जांच होनी चाहिए. मैं बीजेपी की तरफ से यह मांग करता हूं.

टिप्पणियां

VIDEO : बेशर्म और गैरजिम्मेदार हैं राहुल गांधी

उधर, कांग्रेस की ओर से रणदीप सुरजेवाला ने रविशंकर प्रसाद के आरोपों को जवाब देते हुए कहा कि मोदी सरकार का नाम 'मोदी बाबा चालीस चोर' रख देना चाहिए. उन्होंने कहा 'चोर मचाए शोर', चोर ज्यादा शोर मचाता है सुरजेवाला ने कहा रविशंकर प्रसाद पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार के 'गैर-कानूनी मंत्री' राफेल घोटाले का जवाब गाली गलौज से दे रहे हैं. क्या तर्क का जवाब कुतर्क से दे सकते हैं? गाली से दे सकते हैं? उन्होंने कहा कि बीजेपी पाकिस्तान की आड़ क्यों ले रही हैं?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement