NDTV Khabar

महाराष्ट्र: बीजेपी नेता ने कहा- अगर 7 नवंबर तक कोई सरकार नहीं बनी तो राज्य में लग सकता है राष्ट्रपति शासन

महाराष्ट्र के वित्त मंत्री और भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार ने शुक्रवार को कहा कि अगर राज्य में सात नवंबर तक नयी सरकार नहीं बनती है तो यहां राष्ट्रपति शासन लागू हो सकता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र: बीजेपी नेता ने कहा- अगर 7 नवंबर तक कोई सरकार नहीं बनी तो राज्य में लग सकता है राष्ट्रपति शासन

सुधीर मुनगंटीवार

खास बातें

  1. भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार का बड़ा बयान
  2. '7 नवंबर तक कोई सरकार नहीं बनी तो राज्य में लग सकता है राष्ट्रपति शासन'
  3. 'सरकार गठन में मुख्य बाधा शिवसेना की सीएम पद की मांग है'
नई दिल्ली:

महाराष्ट्र के वित्त मंत्री और भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार (Sudhir Mungantiwar) ने शुक्रवार को कहा कि अगर राज्य में सात नवंबर तक नयी सरकार नहीं बनती है तो यहां राष्ट्रपति शासन लागू हो सकता है. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार गठन में मुख्य बाधा शिवसेना की ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद की मांग है. उनकी यह टिप्पणी तब आयी है जब 21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के आठ दिन बाद भी राज्य में सरकार गठन को लेकर कोई स्पष्ट स्थिति नहीं है. मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल आठ नवंबर को समाप्त होगा. 

NCP नेता अजीत पवार का बयान, बोले- विपक्ष में बैठेगी राकांपा और कांग्रेस

मुनगंटीवार ने एक टीवी चैनल से कहा कि दीपावली उत्सव के कारण भाजपा और शिवसेना के बीच बातचीत में देर हुई. एक या दो दिन में बातचीत शुरू होगी. उन्होंने कहा, ‘‘महाराष्ट्र के लोगों ने केवल एक पार्टी को नहीं बल्कि महायुति (भाजपा, शिवसेना और अन्य दलों के गठबंधन) को जनादेश दिया है. हमारा गठबंधन फेविकोल या अंबुजा सीमेंट से भी मजबूत है.''


मुनगंटीवार ने भरोसा जताया कि नयी सरकार का गठन जल्द ही होगा. उन्होंने कहा, ‘‘निर्धारित समय के भीतर एक नयी सरकार बनानी होगी या राष्ट्रपति को हस्तक्षेप करना पड़ेगा. अगर समयसीमा के भीतर सरकार नहीं बनती है तो राष्ट्रपति शासन लागू होगा.''

उन्होंने कहा कि सरकार गठन में मुख्य बाधा शिवसेना की ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद की मांग है. यह पूछे जाने पर कि क्या भाजपा इस मांग को मानेगी, इस पर मुनगंटीवार ने कहा, ‘‘हमने पहले ही देवेंद्र फड़णवीस को नामित कर दिया है.''

शिवसेना की कांग्रेस से 'दोस्ती' BJP से भी पुरानी, क्या महाराष्ट्र में खिलने वाला है 'नया गुल'?

टिप्पणियां

गतिरोध की बात स्वीकार करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हम राज्य स्तर पर गतिरोध को तोड़ने के रास्ते तलाशने के लिए साथ बैठेंगे. अगर आवश्यक हुआ तो भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व हस्तक्षेप करेगा.'' उन्होंने कहा कि नयी सरकार के गठन पर गतिरोध दूर करने के लिए भाजपा बढ़त हासिल करेगी. 

सरकार गठन पर शिवसेना नेता संजय राउत की टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देते हुए मुनगंटीवार ने कहा, ‘‘भाजपा की तरह शिवसेना भी जल्द से जल्द सरकार गठन करना चाहती है. हमने गठबंधन के तौर पर चुनाव लड़ा था. यहां शिवसेना या भाजपा का मुद्दा नहीं है बल्कि महाराष्ट्र के लोगों का मुद्दा है.''
 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement