NDTV Khabar

मैकडोनाल्ड्स ने भारतीय कंपनी के साथ खत्म किया समझौता, 169 आउटलेट्स होंगे बंद

मैकडोनाल्ड्स ने भारतीय कंपनी के साथ अपना करार खत्म कर दिया है. इसका सीधा असर देश के 169 मैकडोनाल्ड्स रेस्त्रां पर पड़ेगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मैकडोनाल्ड्स ने भारतीय कंपनी के साथ खत्म किया समझौता, 169 आउटलेट्स होंगे बंद

विक्रम बख्शी की अगुवाई वाली सीपीआरएल का मैकडोनाल्ड्स इंडिया से लंबे समय से विवाद चल रहा था

खास बातें

  1. समझौता खत्म होने से देश के 169 रेस्त्रां होंगे बंद
  2. सीपीआरएल ने दिल्ली के अपने 43 रेस्त्रां बंद कर दिए थे
  3. MCD ने मैकडोनाल्ड्स के लाइसेंस का नवीनीकरण नहीं किया
नई दिल्ली: बर्गर के चाहने वालों को मैकडोनाल्ड्स के स्वाद से कुछ दिन महरूम रहना पड़ेगा. क्योंकि मैकडोनाल्ड्स ने भारतीय कंपनी के साथ अपना करार खत्म कर दिया है. इसका सीधा असर दिल्ली समेत देश के 169 मैकडोनाल्ड्स रेस्त्रां पर पड़ेगा. बता दें कि विवाद के चलते दिल्ली के 43 रेस्त्रां पहले ही बंद किए जा चुके हैं. 

यह भी पढ़ें: मैकडोनाल्ड के 'फिश-बर्गर' विज्ञापन को लेकर मिलीं ढेरों शिकायतें, ऐड वापस ली, माफी मांगी

अमेरिकी बर्गर रेस्त्रां कंपनी मैकडोनाल्ड्स की भारतीय कंपनी ने अपने स्थानीय संयुक्त उद्यम कनाट प्लाजा रेस्टॉरेंट लिमिटेड (सीपीआरएल) के साथ अपना व्यावसायिक करार खत्म कर दिया है और कहा है कि स्थानीय कंपनी अब उसके नाम से कारोबार नहीं कर सकेगी. यह समझौता दिल्ली सहित उत्तर और पूर्वी क्षेत्र के 169 रेस्त्रां के लिए था.

यह भी पढ़ें: फ्रेंच फ्राई के लिए भारतीय आलू का उपयोग करते हैं : मैकडोनल्ड्स

उद्यमी विक्रम बख्शी की अगुवाई वाली सीपीआरएल का मैकडोनाल्ड्स इंडिया से विवाद चल रहा था. इस निर्णय से कुछ सप्ताह पहले सीपीआरएल ने दिल्ली के अपने 43 रेस्त्रां बंद कर दिए थे, क्योंकि स्थानीय नगर निकाय ने मैकडोनाल्ड्स के नाम से चल रही इन दुकानों का लाइसेंस का नवीनीकरण करने से मना कर दिया था.

टिप्पणियां
सीपीआरएल में बक्शी और मैकडोनाल्ड्स इंडिया आधे-आधे की भागीदार हैं. फ्रैंचाइजी समझौता खत्म किए जाने के बाद अब सीपीआरएल को अमेरिकी कंपनी के नाम, उसके व्यावसायिक प्रतीक चिह्न, डिजाइन और उससे जुड़ी बौद्धिक संपदा का इस्तेमाल करने का अधिकार नहीं रहेगा. ये शर्तें करार खत्म किए जाने के नोटिस के 15 दिन के अंदर लागू हो जाएंगी.

VIDEO: मैकडोनाल्ड बनाम आलू : क्या है हकीकत
(इनपुट भाषा से)
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
 Share
(यह भी पढ़ें)... विपक्ष आपको हमेशा याद रखेगा अटल जी...

Advertisement