NDTV Khabar

मैक्सिको ने 300 भारतीय प्रवासियों को भेजा वापस, राजदूत ने बताई ये वजह...

NDTV से खास बातचीत में भारत में मैक्सिको के राजदूत फेडेरिको सालास ने कहा कि मैक्सिको की नई सरकार इमीग्रेशन पॉलिसी को बेहतर करने की दिशा में काम कर रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मैक्सिको ने 300 भारतीय प्रवासियों को भेजा वापस, राजदूत ने बताई ये वजह...

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. एनडीटीवी से मैक्सिको के राजदूत ने की बात
  2. कहा- नई सरकार कई अहम कानून बना रही है
  3. अमेरिका ने दी थी मैक्सिको को धमकी
नई दिल्ली:

मैक्सिको ने 300 से ज्यादा भारतीय प्रवासियों को वापस स्वदेश भेज दिया है. मैक्सिको ने इसे लेकर एक बयान भी जारी किया है जिसमें कहा गया है कि इन तमाम लोगों के पास मैक्सिको में रहने को लेकर कोई जरूरी दस्तावेज नहीं थे, इसलिए इन्हें वापस भेजा गया है. NDTV से खास बातचीत में भारत में मैक्सिको के राजदूत फेडेरिको सालास ने कहा कि मैक्सिको की नई सरकार इमीग्रेशन पॉलिसी को बेहतर करने की दिशा में काम कर रही है. साथ ही हमारी सरकार यह भी सुनिश्चित करने का प्रयास कर रही है कि देश में कोई गलत तरीके से कोई न रह रहा हो. उन्होंने कहा कि मैक्सिको में बड़ी संख्या में लोग आते हैं और यहां से अमेरिका भी जाते हैं. इसलिए हमारी सरकार ऐसी पॉलिसी तैयार करने में जुटी है जो कानूनी तौर पर सही हो और उससे प्रवासियों के मानवाधिकार की भी रक्षा की जा सके.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने अवैध शरणार्थियों को लेकर दिया स्पष्टीकरण, कहा - गोली नहीं चलाएगी सेना 


सालास ने आगे कहा कि मैक्सिको में विश्व के अन्य इलाकों की तरह ही प्रवासियों की समस्या एक बड़ी चुनौती की तरह है. हालांकि इन्हें लेकर अभी तक कोई विशेष घटना शुरू नहीं हुई है. खास बात यह है कि ऐसे प्रवासियों में खास तौर पर ह्यूमन राइट विक्टिम की संख्या सबसे ज्यादा है. ऐसा नहीं है कि प्रवासियों की समस्या सिर्फ मैक्सिको में है, आप अगर देखें तो आपको कई अन्य देश में भी यह एक जटिल समस्या की तरह दिखेगी. उम्मीद करते हैं कि हम अपने कानून को बेहतर करने के साथ ऐसे लोगों के बीच एक संदेश दे सकें.

टिप्पणियां

अमेरिका में सदी के सबसे तेज तूफान 'माइकल' से मरने वालों की संख्या हुई 17

गौरतलब है कि अमेरिका ने कुछ दिन पहले ही मैक्सिको को प्रवासियों को लेकर धमकी दी थी. इसके बाद ही मैक्सिको के माइग्रेशन अधिकारियों ने 300 से ज्यादा भारतीयों को वापस भेजा है. आरोप है कि भारतीय समुदाय के लोग अवैध रूप से मैक्सिको सीमा से अमेरिका में घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे. इसमें एक महिला भी शामिल थी. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने जून में मैक्सिको सीमा पर घुसपैठ पर लगाम लगाने के लिए सुरक्षा बढ़ाए जाने की बात कही थी. उन्होंने धमकी दी थी कि मैक्सिको अगर ऐसा नहीं करता है तो आयात होने वाले सामानों पर टैरिफ बढ़ा दी जाएगी. इसी को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement