NDTV Khabar

भारतीय नौसेना को लड़ाकू विमानों की आपूर्ति करना चाहती है ‘मिग’, अरबों डॉलर के करार पर नजर

जनवरी में भारतीय नौसेना ने अपने पोतों के लिए 57 बहुद्देशीय लड़ाकू विमानों की खरीद की प्रक्रिया शुरू की थी और इसके लिए अग्रणी सैन्य विमान निर्माताओं के लिए सूचना का अनुरोध जारी किया था.

212 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारतीय नौसेना को लड़ाकू विमानों की आपूर्ति करना चाहती है ‘मिग’, अरबों डॉलर के करार पर नजर
नई दिल्‍ली: लड़ाकू विमानों की आपूर्ति के लिए भारतीय नौसेना की तरफ से अरबों डॉलर के करार का इंतजार कर रही रूसी सैन्य उड्डयन कंपनी ‘मिग’ ने रविवार को कहा कि वह भारतीय कंपनियों के साथ मिग-29के विमान बनाने और प्रौद्योगिकी अंतरण के खिलाफ नहीं है. मिग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) इया तारासेंको ने कहा कि उनकी कंपनी जल्द ही भारत सरकार को एक विस्तृत प्रस्ताव भेजेगी जिसमें नौसेना के लिए विमान के संयुक्त विकास की खातिर अपनी तैयारियों के बारे में बताएगी. तारासेंको ने बताया, ‘‘हम दीर्घकालिक और संभावनाओं के लिहाज से सहयोग के लिए विभिन्न विकल्पों पर विचार कर रहे हैं और इसमें ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम की रूपरेखा भी शामिल है.’’

जनवरी में भारतीय नौसेना ने अपने पोतों के लिए 57 बहुद्देशीय लड़ाकू विमानों की खरीद की प्रक्रिया शुरू की थी और इसके लिए अग्रणी सैन्य विमान निर्माताओं के लिए सूचना का अनुरोध जारी किया था.

अभी विमानवाहक पोतों के लिए छह विमान अनुकूल हैं, जिनमें राफेल (डसॉल्‍ट, फ्रांस), एफ-18 सुपर हॉर्नेट (बोइंग, अमेरिका), मिग-29के (रूस), एफ-35बी और एफ-35सी (लॉकहीड मार्टिन, अमेरिका), ग्राइपेन (साब, स्वीडन) शामिल हैं. एफ-18, राफेल और मिग-29के दो इंजन वाले जेट हैं जबकि अन्य तीन एक ही इंजन वाले लड़ाकू विमान हैं.

VIDEO: भारतीय नौसेना का आधुनिकतम लड़ाकू विमान मिग−29k

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement