Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

पटना में नीतीश कुमार के 'लापता' होने के लगाए गए पोस्टर, उन पर लिखा है, 'ध्यान से देखिए इस चेहरे को...'

बिहार की राजधानी पटना में नीतीश कुमार के विरोध में पोस्टर लगाए गए हैं. पोस्टर में लिखा गया है कि नीतीश कुमार लापता हैंजो भी उन्हें ढ़ूढ कर लाएगा बिहार उसका आभारी रहेगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पटना में नीतीश कुमार के 'लापता' होने के लगाए गए पोस्टर, उन पर लिखा है, 'ध्यान से देखिए इस चेहरे को...'

नीतीश कुमार के विरोध में पटना में लगे पोस्टर

नई दिल्ली:

बिहार की राजधानी पटना में नीतीश कुमार के विरोध में पोस्टर लगाए गए हैं. पोस्टर पर लिखा गया है कि नीतीश कुमार लापता हैं, जो भी उन्हें ढूंढ़ कर लाएगा बिहार उसका आभारी रहेगा. एक पोस्टर पर लिखा है कि अदृश्य मुख्यमंत्री जो पांच वर्ष में सिर्फ एकदिन शपथ ग्रहण के समय दिखाई देता है. वहीं एक अन्य जगह लगाए गए पोस्टर पर लिखा गया है 'ध्यान से देखिए इस चेहरे को यह कई दिनों से न दिखा है न सुना गया है.' CAA और NRC के विरोध में लगाए गए पोस्टर में लिखा गया है गूंगा, बहरा और अंधा मुख्यमंत्री.

गौरतलब है कि नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाईटेड ने नागरिकता संशोधन विधेयक का संसद में समर्थन किया था, जिसके बाद से प्रमुख विपक्षी दल राजद लगातार उनके ऊपर हमलावर है. JDU के  उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने भी CAA का विरोध किया था. 

टिप्पणियां

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में पूरे देश में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं रविवार को दिल्ली के जामिया नगर में पुलिस और छात्रों के बीच झड़प हो गयी थी. कांग्रेस के अलावा चार अन्य राजनीतिक दल के नेताओं ने संयुक्त संवाददाता सम्मेलन कर जामिया परिसर में रविवार शाम की घटनाओं की उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश से जांच कराने की मांग की थी. कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, ‘‘केंद्र सरकार एक ऐसा कानून लाकर देश में हिंसा के लिए पूरी तरह जिम्मेदार है जिसका देशभर में विरोध किया जा रहा है और सभी विपक्षी दल विरोध कर रहे हैं. अगर सरकार यह कानून नहीं लाती तो कोई हिंसा नहीं होती.''


VIDEO: जामिया के छात्रों पर पुलिस की बर्बरता के खिलाफ देशभर की यूनिवर्सिटीज में प्रदर्शन



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... शाहीन बाग फिर पहुंचे मध्यस्थ, कहा- तकलीफें दूर करने के लिए मिलकर रास्ता निकालें

Advertisement