अरुणाचल प्रदेश में NPP विधायक सहित 11 लोगों की उग्रवादियों ने घात लगाकर की हत्या

अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) के तिराप जिले में उग्रवादियों ने नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) विधायक तिरोंग अबो (Tirong Aboh) सहित 11 लोगों की हत्या कर दी.

अरुणाचल प्रदेश में NPP विधायक सहित 11 लोगों की उग्रवादियों ने घात लगाकर की हत्या

अरुणाचल प्रदेश में उग्रवादियों ने NPP विधायक सहित 11 लोगों की हत्या कर दी.

खास बातें

  • अरुणाचल प्रदेश में विधायक समेत 11 की हत्या
  • मुख्यमंत्री कॉनराड संगमा की पार्टी के थे विधायक
  • हमले में विधायक के बेटे की भी हुई मौत
गुवाहाटी:

अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) के तिराप जिले में उग्रवादियों ने नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) विधायक तिरोंग अबो (Tirong Aboh) सहित 11 लोगों की हत्या कर दी. तिरोंग अबो मेघालय के मुख्यमंत्री कॉनराड संगमा की पार्टी के विधायक थे. घटना में विधायक तिरोंग अबो (Tirong Aboh News) के बेटे की भी मौत हो गई. NSCN उग्रवादियों ने घात लगाकर घटना को अंजाम दिया. बताया जा रहा है कि 2 की हालत गंभीर है.

रवीश कुमार का ब्लॉग: दिल्ली वालों, केवल इ से इटानगर नहीं होता, इटानगर में इंसान भी होते हैं

पुलिस सूत्रों ने बताया कि उग्रवादियों ने तिरोंग अबो (Tirong Aboh) को पहले भी जान से मारने की धमकी दी थी. अबो इस बार एनपीपी (NPP) से विधानसभा चुनाव लड़ रहे थे. इससे पहले वह कांग्रेस से विधायक चुने गए थे. पुलिस के अनुसार विधायक तिरोंग अबो तीन गाड़ियों के काफिले के साथ जा रहे थे. इनमें से एक कार उनका बेटा चला रहा था, जो काफिले की पहली गाड़ी थी. इलाके में सक्रिय एनएससीएन उग्रवादियों ने काफिले की पहली गाड़ी को रोक दिया और बेहद करीब से अंधाधुंध गोलियां बरसाने लगे. सभी उग्रवादी लड़ाके की वेशभूषा में थे. घटना के बाद असम राइफल्स ने इलाके में सर्च अभियान चलाया है. बता दें कि उग्रवादियों ने इसस पहले भी एनपीपी और बीजेपी के स्थानीय नेताओं की हत्या कर दी थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में BJP के काफिले पर नक्सलियों ने किया हमला, MLA भीमा मंडावी समेत 5 की मौत

बता दें कि बीते 27 अप्रैल को छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दंतेवाड़ा (Dantewada) जिले में नक्सली (Naxal Attack) हमले में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के MLA भीमा मंडावी (Bheema Mandavi) की मौत हो गई. भीमा मंडावी के अलावा 3 पीएसओ और ड्राइवर को भी नक्सलियों ने मौत के घात उतार दिया था. उस समय नक्सलियों ने भीमा मंडावी (BJP Convoy Attacked) के काफिले को निशाना बनया था. बता दें कि जब विधायक के काफिले को निशाना बनाया गया तब वह तब चुनाव-प्रचार करने जा रहे थे.