महाराष्ट्र विधानसभा के विशेष सत्र में प्रोटेम स्पीकर ने विधायकों को दिलवाई शपथ

राकांपा नेता अजित पवार, छगन भुजबल, कांग्रेस नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण, पृथ्वीराज चव्हाण, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष दिलीप वाल्से पाटिल (NCP) तथा हरीभाऊ बागड़े (BJP) पहले शपथ लेने वालों में शामिल रहे.

महाराष्ट्र विधानसभा के विशेष सत्र में प्रोटेम स्पीकर ने विधायकों को दिलवाई शपथ

महाराष्ट्र में विधायकों ने ली शपथ.

मुंबई:

महाराष्ट्र में नव निर्वाचित विधायकों को शपथ दिलाने के लिए 14वीं विधानसभा का विशेष सत्र बुधवार सुबह आरंभ हो गया. NCP सांसद सुप्रिया सुले ने सत्र शुरू होने से पहले विधान भवन के प्रवेश द्वार पर अजित पवार और पार्टी विधायक रोहित पवार से मुलाकात की. सुले ने पत्रकारों से कहा, "यह दिन अपने साथ बड़ी जिम्मेदारी लाया है." सदन में कार्यवाहक अध्यक्ष कालीदास कोलांबकर ने बबनराव पचपुते, विजयकुमार गावित और राधाकृष्ण विखे पाटिल को सदस्यों को शपथ दिलाने के वास्ते पीठासीन अधिकारी नियुक्त किया.

...जब अजित पवार पहुंचे विधानसभा तो सुप्रिया सुले पहले लगीं गले और फिर छुए पैर

NCP नेता अजित पवार, छगन भुजबल, कांग्रेस नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण, पृथ्वीराज चव्हाण, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष दिलीप वाल्से पाटिल (NCP) तथा हरीभाऊ बागड़े (BJP) पहले शपथ लेने वालों में शामिल रहे.
पीठासीन अधिकारी पचपुते और गावित ने सबसे पहले शपथ ली और फिर इसके बाद कार्यवाहक मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शपथ ली. अजित पवार जब शपथ लेने के लिए मंच पर गए तो राकांपा सदस्यों ने मेज थपथपाकर उनका स्वागत किया. नव निर्वाचित शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे को विभिन्न दलों ने बधाई दी.

Assembly Election: चुनाव आयोग की विजिलेंस टीम ने ली NCP नेता सुप्रिया सुले के हेलीकॉप्टर की तलाशी

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के 29 वर्षीय बेटे आदित्य सभी वरिष्ठ सदस्यों के पास उन्हें बधाई देने के लिए गए.
राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने कोलांबकर को मंगलवार शाम को कार्यवाह अध्यक्ष नियुक्त किया था. नव निर्वाचित सदस्य राज्य में चल रहे नाटकीय घटनाक्रमों के कारण विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के एक महीने बाद भी शपथ नहीं ले पाए थे. किसी भी दल के सरकार न बना पाने के कारण राज्य में 12 नवंबर से 23 नवंबर तक राष्ट्रपति शासन लागू रहा.
उच्चतम न्यायालय ने मंगलवार को कोश्यारी से प्रोटेम स्पीकर नियुक्त करने और यह सुनिश्चित करने को कहा था कि सदन के सभी निर्वाचित सदस्यों को बुधवार शाम पांच बजे तक शपथ दिला दी जाए.

NCP नेता अजित पवार के समर्थन से 23 नवंबर को बनी भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार मंगलवार दोपहर को तब गिर गयी जब पवार ने उपमुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया और फिर उसके बाद देवेंद्र फडणवीस को भी मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा. शिवसेना, NCP और कांग्रेस के 'महाविकास अघाडी' ने सोमवार को 162 विधायकों का समर्थन होने का दावा करते हुए राज्यपाल को एक पत्र सौंपा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

NCP ने घोषणा की है कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री होंगे. वह गरूवार की शाम को दादर में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. इस स्थान पर उनकी पार्टी हर साल पारंपरिक दशहरा रैली का आयोजन करती है.

VIDEO: Maharashtra: शपथ लेने के लिए विधानसभा पहुंचे सभी विधायक



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)