NDTV Khabar

मुंशी प्रेमचंद के पैतृक घर को मिली बिजली, आपूर्ति रोके जाने पर हो गया था विवाद

उत्तरप्रदेश विद्युत निगम ने वाराणसी के बाहरी इलाके में लमही में स्थित महान उपन्यासकार मुंशी प्रेमचंद के पैतृक मकान में बिजली की आपूर्ति बहाल कर दी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुंशी प्रेमचंद के पैतृक घर को मिली बिजली, आपूर्ति रोके जाने पर हो गया था विवाद

लमही में मुंशी प्रेमचंद का घर

खास बातें

  1. मुंशी प्रेमचंद के पैतृक घर को मिली बिजली
  2. आपूर्ति रोके जाने पर हो गया था विवाद
  3. वाराणसी के बाहरी इलाके में लमही में है प्रेमचंद का घर
यूपी:
टिप्पणियां

उत्तरप्रदेश विद्युत निगम ने वाराणसी के बाहरी इलाके में लमही में स्थित महान उपन्यासकार मुंशी प्रेमचंद (Munshi Premchand) के पैतृक मकान में बिजली की आपूर्ति बहाल कर दी है. दरअसल, लेखक की 139 वीं जयंती के कुछ दिन पहले पिछले सप्ताह उनके मकान की बिजली आपूर्ति रोके जाने से विवाद पैदा हो गया था. हालांकि, वराणसी के जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह ने इससे इनकार किया कि महान कथाकार के पैतृक गांव में मकान की बिजली आपूर्ति रोक दी गई थी. लमही गांव के ग्रामीण और 2011 से लमही महोत्सव के सक्रिय आयोजक दुर्गा प्रसाद श्रीवास्तव ने आरोप लगाया था कि उत्तर प्रदेश विद्युत निगम के अधिकारियों ने बिजली बिल का कथित तौर पर भुगतान नहीं होने के कारण चार-पांच दिन पहले मकान को बिजली की आपूर्ति रोक दी थी. 

श्रीवास्तव ने फोन पर पीटीआई को बताया, 'लमही के ग्रामीणों और वाराणसी के निवासियों में रोष के बाद आज बिजली आपूर्ति बहाल कर दी गयी.' नयी दिल्ली से कॉल किए जाने पर सिंह ने कहा कि कुछ मजदूरों की लापरवाही के कारण बिजली आपूर्ति लाइन बाधित हो गयी थी. वाराणसी विकास प्राधिकरण ने इन मजदूरों को प्रेमचंद के दो कमरे वाले मकान को पेंट करने का काम सौंपा था.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement