दिल्ली : महिला से छेड़खानी और सट्टेबाजी का विरोध करने पर मामा-भांजे को मिली ये सजा

दरअसल, कुछ दिनों पहले शांता कुमार की बहन आनंदी के पति ने इलाके में सट्टा खेल रहे कुछ लोगों को रोका था.

दिल्ली : महिला से छेड़खानी और सट्टेबाजी का विरोध करने पर मामा-भांजे को मिली ये सजा

दिल्ली मामा-भांजे पर हमला

खास बातें

  • सट्टेबाजी का विरोध करने की सजा
  • एक को गोली मारी, दूसरे को चाकू
  • महिला के घर में घुसकर कपड़े फाड़े गए
नई दिल्ली:

साउथ ईस्ट दिल्ली के अंबेडकर नगर थाना इलाके में बीती रात सट्टे और छेड़खानी का विरोध करने पर एक ही परिवार के दो लोगों पर धारधार हथियार से हमला कर दिया गया. इस हमले में विक्की नाम के शख्श की गोली लगने से मौत हो गई वही शांता कुमार नामक शख्स चाकू लगने से गंभीर रूप से घायल हो गया. दोनों रिश्ते में मामा और भांजे लगते हैं. मृतक विक्की और घायल हुए शांता जिन्हें छेड़खानी और सट्टा का विरोध करना इतना महंगा पड़ गया. परिवार को इसकी कीमत विक्की को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी और उनका भांजा जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा है. 

पढ़ें: ऑनर किलिंग : बहन और दोस्त को एक कमरे में बातचीत करते पाया तो ले ली जान

सट्टा खेलने से रोका था
दरअसल, कुछ दिनों पहले शांता कुमार की बहन आनंदी के पति ने इलाके में सट्टा खेल रहे कुछ लोगों को रोका था. इस पर आरोपियों ने शांता की परिवार की एक महिला से छेड़खानी की और उसे किसी और से सेटिंग कराने की बात कही. जब इसकी जानकारी शांता को मिली तो वह आरोपियों को ऐसा क्यों किया बताने गया, वहां झगड़ा हो गया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पढ़ें: दिल्ली : 40 साल की पांच बच्चों की मां की चाकू मारकर हत्या

घर में घुसकर महिला के कपड़े फाड़े
फिर उसी का बदला लेने के लिए शाम को आरोपियों ने आंनदी को घर में जाकर छेड़ा उसके कपड़े फाड़ दिए, जिसको लेकर बात बढ़ी और दूसरे पक्ष के लोगों ने शांता उसके भाई और मामा विक्की पर जानलेवा हमला कर दिया. इस हमले में विक्की की गोली लगने से मौत हो गई वहीं शांता कुमार बुरी तरह घायल हो गया. शांता कुमार का इलाज ट्रॉमा में चल रहा है.
पुलिस कर रही है आरोपियों की तलाश
डीसीपी रोमिल बनिया ने मामले की पुष्टि करते हुए फोन पर बताया कि लोकल पुलिस मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही है जबकि एक को हिरासत में ले लिया गया है. हमलावर मौके पर लगे सीसीटीवी का डीवीआर भी साथ ले गए.