अलवर: मुस्लिम पुलिस कर्मियों के खिलाफ दाढ़ी नहीं रखने का फैसला लिया गया वापस

राजस्थान के अलवर पुलिस जिले में तैनात नौ मुस्लिम पुलिसकर्मियों को दाढ़ी रखने की मंजूरी बरकरार रहेगी, इस बारे में एक दिन पहले जारी आदेश को वापस ले लिया गया है.

अलवर: मुस्लिम पुलिस कर्मियों के खिलाफ दाढ़ी नहीं रखने का फैसला लिया गया वापस

प्रतीकात्मक फोटो

अलवर:

राजस्थान के अलवर पुलिस जिले में तैनात नौ मुस्लिम पुलिसकर्मियों को दाढ़ी रखने की मंजूरी बरकरार रहेगी, इस बारे में एक दिन पहले जारी आदेश को वापस ले लिया गया है. पुलिस अधीक्षक अनिल पारिस देशमुख ने बताया, ''‘यह एक प्रशासनिक आदेश था जिसे संबंधित पुलिसकर्मियों के आवेदन मिलने के बाद वापस ले लिया गया है. दाढ़ी रखने की पूर्व अनुमति यथावत रहेगी.''

21 साल के मयंक प्रताप सिंह बने भारत के सबसे कम उम्र के जज

उल्लेखनीय है कि पुलिस अधीक्षक ने गुरुवार को एक आदेश जारी कर जिले में तैनात नौ मुस्लिम पुलिसकर्मियों को दाढ़ी रखने की छूट को राज्य सरकार के नियमानुसार तुरंत प्रभाव से वापस ले लिया था. अलवर पुलिस प्रशासन ने कुल मिलाकर 32 पुलिसकर्मियों को ड्यूटी के दौरान दाढ़ी रखने की अनुमति दे रखी है. 

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा, 'नेहरू के नाम से कुछ लोगों का ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है'

इससे पहले देशमुख ने कहा था कि दाढ़ी रखने की इजाजत को इसलिये वापस लिया गया ताकि पुलिसकर्मी निष्पक्षता के साथ काम कर सके और निष्पक्ष दिखें. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इनपुट भाषा से भी

Video: दबंग ने महिला सरपंच को जेसीबी से लटकाया