NDTV Khabar

कांग्रेस के आरोप पूरी तरह गलत और राजनीति से प्रेरित : वेंकैया नायडू

एम. वेंकैया नायडू की ईमानदारी पर कांग्रेस द्वारा सवाल उठाने पर नायडू ने कांग्रेस के सभी आरोपों को पूरी तरह से गलत और राजनीति से प्रेरित बताया है. नायडू ने कहा कि कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने जो मुद्दे उठाए हैं उसका जवाब अतीत में भी दिया जा चुका है. 

2 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस के आरोप पूरी तरह गलत और राजनीति से प्रेरित : वेंकैया नायडू

कांग्रेस के आरोपों को वेंकैया नायडू ने राजनीति से प्रेरित बताया है

नई दिल्ली: एम. वेंकैया नायडू की ईमानदारी पर कांग्रेस द्वारा सवाल उठाने पर नायडू ने कांग्रेस के सभी आरोपों को पूरी तरह से गलत और राजनीति से प्रेरित बताया है. नायडू ने कहा कि कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने जो मुद्दे उठाए हैं उसका जवाब अतीत में भी दिया जा चुका है. 

बता दें कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने नायडू की ईमानदारी पर सवालिया निशान लगाते हुए बीजेपी पर चार सवाल  दागते हुए उनके जवाब मांगे थे. इनमें नायडू की बेटी के स्वर्ण भारती ट्रस्ट और बेटे की कंपनी को अतिरिक्त लाभ पहुंचाने के साथ नायडू पर गरीबों की जमीन हड़पने के आरोप लगाए थे.

वेंकैया नायडू ने आरोपों का बिंदुवार खंडन करते हुए कहा कि यह साफ है कि इन मुद्दों का उल्लेख उपराष्ट्रपति चुनाव से कुछ दिन पहले किया गया है, जो राजनीतिक मंशा और शरारतपूर्ण मंशा को दर्शाता है. उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस पार्टी की नाउम्मीदी और राजनीतिक दिवालिएपन की भावना का स्पष्ट सबूत है.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस ने वेंकैया नायडू की ईमानदारी पर साधा निशाना, बीजेपी से पूछे चार सवाल

उनकी बेटी द्वारा संचालित स्वर्ण भारत ट्रस्ट को विकास शुल्क के भुगतान से छूट दिए जाने पर नायडू ने कहा कि जब यह मुद्दा मीडिया ने उठाया था तब तेलंगाना सरकार ने अपने 23 जुलाई, 2017 के प्रत्युत्तर में साफ किया कि एसबीटी पहला और अंतिम नहीं है जिसे इस तरह की छूट दी गई.

उन्होंने कहा, दरअसल, उसने ऐसे कई अन्य संगठनों का भी ब्योरा दिया जिन्हें इस तरह की छूट दी गई. इसमें राज्य में कांग्रेस की सरकारों द्वारा दी गई छूट भी शामिल है. नायडू ने कहा कि तेलंगाना सरकार ने यह भी कहा कि ट्रस्ट को सामाजिक सेवाएं करने के लिये प्रोत्साहन देने के लिए छूट दी गई।

नायडू ने कहा गया कि 20 जून को तेलंगाना सरकार ने गोपनीय आदेश जारी किया जिसके तहत एसबीटी को हैदराबाद मेट्रोपोलिटन विकास प्राधिकरण को दो करोड़ रुपये से अधिक के विकास शुल्क के भुगतान से छूट दी गई.

VIDEO: 1971 की जंग को भूले नहीं पाकिस्तान : वेंकैया नायडू नेल्लूर जिले में भूमि पर कब्जा करने के मुद्दे पर नायडू ने कहा कि मामला 2002 में स्थानीय कांग्रेसी नेताओं ने उठाया था और यहां तक कि अदालतों का भी दरवाजा खटखटाया था और भूमि पर कब्जा करने के आरोपों को खारिज कर दिया गया था. रमेश ने आरोप लगाया था कि नायडू को बाद में भूमि लौटाने पर मजबूर होना पड़ा था.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement