NDTV Khabar

राकांपा का भाजपा पर हमला, कहा- ED का पवार के खिलाफ मामला दर्ज करना एक साजिश

राकांपा ने ये आरोप ED द्वारा दर्ज धनशोधन मामले में पवार का नाम आने और दाऊद इब्राहिम के करीबी रहे दिवंगत इकबाल मिर्ची से कथित व्यापार सौदों के लिये राकांपा नेता प्रफुल्ल पटेल से पूछताछ किए जाने के मद्देनजर लगाए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राकांपा का भाजपा पर हमला, कहा- ED का पवार के खिलाफ मामला दर्ज करना एक साजिश

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता नवाब मलिका (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. विपक्षी नेताओं और चोर और भ्रष्टाचारी की तरह पेश करना भाजपा की साजिश
  2. राकांपा नेता प्रफुल्ल पटेल को पिछले दिनों ईडी ने भेजा था पूछताछ का समन
  3. भाजपा ने राकांपा के आरोपों को किया खारिज
मुंबई:

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने शुक्रवार को कहा कि प्रवर्तन निदेशालय (ED) का पार्टी प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) के खिलाफ मामला दर्ज करना नरेन्द्र मोदी सरकार की विपक्षी नेताओं को चोर, भ्रष्टाचारी की तरह पेश करने की साजिश है. हालांकि भाजपा ने इन आरोपों को खारिज कर दिया. बता दें, राकांपा ने ये आरोप ED द्वारा दर्ज धनशोधन मामले में पवार का नाम आने और दाऊद इब्राहिम के करीबी रहे दिवंगत इकबाल मिर्ची से कथित व्यापार सौदों के लिये राकांपा नेता प्रफुल्ल पटेल से पूछताछ किए जाने के मद्देनजर लगाए. राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा, "ED ने पवार के खिलाफ जो मामला दर्ज किया, वो विपक्षी नेताओं को चोर और भ्रष्ट बताकर उन्हें मिटाने की भाजपा, मोदी और (गृह मंत्री) शाह की साजिश है."

डीके शिवकुमार की जमानत रद्द करने के लिए ED ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की याचिका


उन्होंने कहा, "चुनाव के दौरान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के माध्यम से हमें बदनाम करने के लिए पटेल को दाऊद और मिर्ची से जोड़ा गया." इसके साथ ही मलिक ने मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस को महाराष्ट्र के इतिहास का "सबसे भ्रष्ट और बेईमान मुख्यमंत्री" बताया. उन्होंने कहा, " मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण (MMRDA) के सभी ठेकों को 42 फीसदी अतिरिक्त दरों पर दिया गया. ठेके उत्पादक संघों के लिए थे. सरकार ने काली सूची में शामिल कंपनियों को ठेका दिया."

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में इकबाल मिर्ची के कथित सहयोगी को ED ने किया गिरफ्तार

हालांकि भाजपा ने मलिक के आरोपों को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि दाऊद और राकांपा नेताओं के संबंध सामने आने के बाद ध्यान भटकाने के लिए बेबुनियाद आरोप लगाए जा रहे हैं." महाराष्ट्र भाजपा के मुख्य प्रवक्ता माधव भंडारी ने कहा कि फड़णवीस सरकार द्वारा अनुबंध देने से संबंधित दस्तावेज सबके सामने हैं.

टिप्पणियां

VIDEO : डीके शिवकुमार को हाईकोर्ट से मिली जमानत



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement