NDTV Khabar

करीब दो लाख फंसे हुए अप्रवासियों को 2014 से अब तक वापस लाया गया : स्वराज

सुषमा स्वराज के मुताबिक नरेंद्र मोदी सरकार ने अपनी विदेश नीतियों में राष्ट्र हितों को प्राथमिकता दी

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
करीब दो लाख फंसे हुए अप्रवासियों को 2014 से अब तक वापस लाया गया : स्वराज

सुषमा स्वराज (फाइल फोटो).

नागपुर:

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मंगलवार को कहा कि पिछले साढ़े चार साल में विदेशों में फंसे करीब दो लाख प्रवासियों को वापस भारत लाया गया. स्वराज के मुताबिक नरेंद्र मोदी सरकार ने अपनी विदेश नीतियों में राष्ट्र हितों को प्राथमिकता दी है और भारत ने अन्य देशों के साथ अच्छे संबंध बनाए रखे जबकि कुछ देशों के आपस में रिश्ते तनावपूर्ण थे.    

स्वराज राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की महिला शाखा राष्ट्रीय सेविका समिति से संबद्ध श्री शक्ति पीठ द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रही थीं. उन्होंने कहा, “इससे पहले कई विदेश मंत्री रहे हैं लेकिन क्या विदेशों में रहने वाले अपने नागरिकों की सुरक्षा विदेश मंत्रालय की कभी प्राथमिकता रही? कभी नहीं. मैंने ‘परदेस में आपका दोस्त, भारतीय दूतावास' की पहल की.”

विदेश मंत्री ने कहा, “जब कोई अपने ही देश में परेशानी में फंसता है तो मदद करने वाले लोग होते हैं और कई अन्य विकल्प होते हैं. लेकिन धोखाधड़ी या अन्य कई कारणों से विदेश में फंस जाने वाले को बचाने वाला कोई नहीं होता. अगर आंकड़ों की बात करें तो हम 2,03,666 अप्रवासियों को वापस लेकर आए हैं जो विदेश में मुसीबत में फंसे हुए थे.”    


टिप्पणियां

स्वराज के मुताबिक, “असंतुलित संबंध में संतुलन लाना” भारत की कूटनीति का हिस्सा है जिसे उसने राष्ट्र हितों को महत्त्व देकर आगे बढ़ाया है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement