NDTV Khabar

राष्‍ट्रपति शपथ ग्रहण : मीरा कुमार के बगल में नजर आए नीतीश कुमार, किया था विरोध

संसद के सेंट्रल हॉल में जब राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद का शपथ ग्रहण समारोह हो रहा था, उस दौरान गैलरी में सबकी निगाहें नीतीश कुमार की तरफ भी गईं.

868 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
राष्‍ट्रपति शपथ ग्रहण : मीरा कुमार के बगल में नजर आए नीतीश कुमार, किया था विरोध

संसद के सेंट्रल हॉल में राष्‍ट्रपति शपथ ग्रहण समारोह के दौरान नीतीश कुमार और मीरा कुमार.

खास बातें

  1. संसद के सेंट्रल हॉल में मीरा कुमार के बगल में दिखे नीतीश कुमार
  2. राष्‍ट्रपति चुनाव में यूपीए उम्‍मीदवार मीरा कुमार का किया था विरोध
  3. इस वजह से विपक्ष की आलोचना के भी शिकार हुए थे
संसद के सेंट्रल हॉल में जब राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद का शपथ ग्रहण समारोह हो रहा था, उस दौरान गैलरी में सबकी निगाहें नीतीश कुमार की तरफ भी गईं. ऐसा इसलिए भी क्‍योंकि वह मीरा कुमार के बगल में बैठे थे. यह मौका इसलिए खास रहा क्‍योंकि राष्‍ट्रपति चुनावों में मीरा कुमार विपक्षी यूपीए की तरफ से उम्‍मीदवार थीं और नीतीश कुमार ने उनकी मुखालफत करते हुए रामनाथ कोविंद का समर्थन किया था. इस वजह से विपक्ष की एकता में फूट भी इस चुनाव में देखने को मिली थी.

दरअसल उस दौरान विपक्ष ने बिहार की बेटी मीरा कुमार की उम्‍मीदवारी का समर्थन नहीं करने के कारण नीतीश कुमार की आलोचना भी की थी. हालांकि उसका जवाब देते हुए नीतीश कुमार ने कहा था कि बिहार की बेटी को चुनाव हारने के लिए मैदान में क्‍यों उतारा गया? इस पृष्‍ठभूमि में राष्‍ट्रपति शपथ ग्रहण समारोह के दौरान मीरा कुमार के बगल में नीतीश कुमार की मौजूदगी चर्चा का विषय रही.

राष्‍ट्रपति शपथ ग्रहण समारोह
इससे पहले रामनाथ कोविंद ने देश के 14वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ग्रहण किया. उनके शपथ ग्रहण में पीएम मोदी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और बिहार के सीएम नीतीश कुमार समेत राजनीति जगत के कई दिग्गज शामिल हुईं. शपथ ग्रहण के लिए राष्ट्रपति भवन में खास तैयारियां की गई थीं.

पढ़ें : राष्‍ट्रपति के रूप में रामनाथ कोविंद को मिलेगा ये वेतन और सुविधाएं
जाते-जाते भावुक हुए प्रणब मुखर्जी तो अरविंद केजरीवाल ने कुछ यूं जताई सहानुभूति
शपथ ग्रहण के बाद रामनाथ कोविंद ने कहा कि मैं सेंट्रल हॉल में पुरानी यादें ताजा हो गईं. सेंट्रल हॉल में मैंने विचार-विमर्श किया. कई बार विचारों से सहमत होते तो कभी असहमत. विचारों का सम्मान करना इसी सेंट्रल हॉल में सीखा है. 21वीं सदी भारत की सदी होगी. मैं पूरी विनम्रता के साथ ये पद ग्रहण कर रहा हूं. मैं बहुत छोटे से गांव में मिट्टी के घर में पला बढ़ा हूं. काफी लंबी यात्रा रही.
पढ़ें: रामनाथ कोविंद की बेटी कौन हैं, क्यों नहीं लगाती हैं पिता का सरनेम?​
 
प्रणब मुखर्जी का नया पता 10 राजाजी मार्ग होगा, मिलेंगी ये सुविधाएं

VIDEO-रामनाथ कोविंद ने पद और गोपनीयता की शपथ ली


 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement