NDTV Khabar

कांग्रेस के छह सदस्‍यों के निलंबन को लेकर लोकसभा में हंगामा

इससे पहले राष्‍ट्रपति शपथ ग्रहण समारोह के चलते लोकसभा की कार्यवाही दोपहर तीन बजे तक के लिए स्‍थगित कर दी गई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस के छह सदस्‍यों के निलंबन को लेकर लोकसभा में हंगामा

खास बातें

  1. सोमवार को कांग्रेस के छह सांसद निलंबित किए गए
  2. इसके चलते मंगलवार को विपक्ष ने हंगामा किया
  3. संसद के भीतर बापू की प्रतिमा के समक्ष भी प्रदर्शन किया
मंगलवार को कांग्रेस के छह सदस्‍यों के निलंबन को लेकर लोकसभा में विपक्ष ने हंगामा किया. संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने जब इस मुद्दे पर अपनी बात रखी तो नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि संसदीय कार्यमंत्री आग में पेट्रोल डाल रहे हैं. इससे पहले राष्‍ट्रपति शपथ ग्रहण समारोह के चलते लोकसभा की कार्यवाही दोपहर तीन बजे तक के लिए स्‍थगित कर दी गई थी. दरअसल सोमवार को लोकसभा स्‍पीकर की तरफ कागज के टुकड़े उछालने के कारण कांग्रेस के छह सदस्‍यों को पांच दिनों के लिए निलंबित कर दिया गया था. इसके चलते मंगलवार को संसद के भीतर विपक्ष ने महात्‍मा गांधी की प्रतिमा के पास विरोध प्रदर्शन किया.

पीएम मोदी ने ली क्‍लास
कहा जाता है कि पीएम नरेंद्र मोदी अपनी सरकार और सरकार के कामकाज को हमेशा से सख्त माने जाते रहे हैं. कई बार मंत्रियों से लेकर सरकारी अफसरों की क्लास लगा चुके हैं. कामकाज के तरीके में बदलाव और नई योजनाओं के सफल क्रियान्वयन को लेकर उनके द्वारा दिए गए निर्देश हमेशा से खबरों क सुर्खियां बन जाते हैं. अब सूत्रों के हवाले से फिर खबर है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी ही पार्टी के सांसदों की क्लास लगा दी है. यानि उन्हें चेताया है.

पढ़ें: 2015 में भी कांग्रेस के 25 सांसद लोकसभा से हुए थे सस्पेंड
सूत्रों के अनुसार बीजेपी संसदीय दल की बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा के सांसदों को अपनी संसदीय गतिविधियों में सतर्क और सजग रहने की हिदायत दी है. पीएम मोदी ने राज्यसभा सांसदों को चेताया और कहा कि लंच के बाद सदन में गैरहाजिर न हों. कहा जाता है कि कई सांसद में संसद में भोजनावकाश के बाद अपने अपने काम से निकल जाते हैं. पीएम मोदी ने ऐसे सांसदों को चेतावनी दी है.  सूत्रों का कहना है कि पीएम ने कहा, सांसदों की गैरहाजिरी से कई महत्वपूर्ण बिलों को पास कराने में देरी होती है. सांसदों को अपने रवैये में बदलाव लाना चाहिए ताकि कई काम समय पर हो सके. 
पढ़ें- सांसदों की सदन में कम से कम 100 दिन की उपस्थिति अनिवार्य होनी चाहिए: येचुरी
पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी बात रखते हुए कहा कि सांसदों की कमी से कई बार कोरम तक पूरा नहीं होता. पीएम मोदी ने स्पष्ट किया कि कोई भी बिल पास करवाना सरकार का काम है. सत्ता में बैठी पार्टी के सांसदों का दायित्व है कि वह अपने इस काम को पूरा करें. इसी के साथ पीएम मोदी ने साफ कर दिया कि सांसदों की अनुपस्थिति बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

पीएम नरेंद्र मोदी ने आजादी के 70 साल की वर्षगाँठ के बारे में भी बताया
इसी बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी ने आजादी के 70 साल की वर्षगाँठ के बारे में भी बताया. उन्होंने कहा कि इस बार 9 अगस्त से 15 अगस्त तक कार्यक्रम किए जाएंगे. पीएम मोदी ने 15 अगस्त से 30 अगस्त तक संकल्प यात्रा की घोषणा भी की. उन्होंने पार्टी सांसदों से कहा कि आने वाले पाँच साल में हर क्षेत्र में कल्याण के कार्यक्रम के बारे में लोगों को बताया जाए.

पीएम मोदी ने कहा कि 1857 में पहला स्वतंत्रता संग्राम हुआ. 1947 में मुक़ाम हासिल हुआ. 1947 से 2017 तक भारत ने कई मुक़ाम हासिल किए हैं. उन्होंने कहा कि 2022 तक भारत विश्व में एक ताकत बनकर उभरेगा, ये तय है.

VIDEO: 2015 में भी 25 सांसद हुए थे निलंबित



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement