NDTV Khabar

100 रुपये किलो तक पहुंची प्याज की कीमतें, विपक्ष ने सरकार की नीतियों को ठहराया जिम्मेदार 

इस हफ्ते दिल्ली और देश के कई हिस्सों में प्याज 100 रुपये किलो के आसपास बिका. ऐसी हालत पहले शायद कभी नहीं आई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
100 रुपये किलो तक पहुंची प्याज की कीमतें, विपक्ष ने सरकार की नीतियों को ठहराया जिम्मेदार 

प्याज की कीमतें 100 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गई हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली :
टिप्पणियां

इस हफ्ते दिल्ली और देश के कई हिस्सों में प्याज 100 रुपये किलो के आसपास बिका. ऐसी हालत पहले शायद कभी नहीं आई थी. विपक्ष आरोप लगा रहा है कि ये महंगाई सरकार की नीतियों की वजह से है. दिल्ली की बात करें तो यहां बीते तीन दिनों से प्याज कई जगहों पर 100 रुपये किलो बिक रहा है. यही हाल देश के दूसरे हिस्सों का है. खाद्य और उपभोक्ता मंत्रालय के मुताबिक पिछले दस दिन में खुदरा बाजार में प्याज के दाम बहुत तेज़ी से बढ़े हैं. पणजी में 57 रुपये किलो से बढ़कर 110 रुपये किलो तक हो गया. इसी तरह कोलकाता में 70 से बढ़कर 100, तिरुवंतपुरम में 75 से बढ़कर 100, मुंबई में 72 से बढ़कर 92, सूरत में 67 से बढ़कर 92 और पंचकूला में 50 रुपये किलो से बढ़कर 90 रुपये किलो पहुंच गया है. 

प्याज की बढ़ती कीमतों को लेकर पर आरोप प्रत्यारोप तेज़ हो गया है. आप नेता संजय सिंह ने कहा कि खाद्य मंत्री रामविलास पासवान की पॉलिसी प्याज संकट के लिए जिम्मेवार है. सरकार ने प्याज के आयात का फैसला देर से क्यों किया. वहीं आरजेडी नेता मनोज झा ने कहा कि सरकार फेल हो गयी है. खाद्य मंत्रालय बता रहा है, इस साल प्याज की पैदावार 26% घटी है.  मॉनसून, भारी बारिश और तूफ़ान इसकी वजह हैं. अब टर्की, नेदरलैंड और इजिप्ट से प्याज मंगाने की कोशिश की जा रही है. वहीं, दूसरी तरफ बीजेपी नेता सीपी ठाकुर ने कहा कि अगर 100 रुपये से ऊपर प्याज बिकता रहा तो राज्यों में चुनावों की इस घड़ी में सरकार का संकट बड़ा होता जाएगा. 




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement