NDTV Khabar

नाराज़गी में सदन से वॉकआउट करने वाली बीएसपी सुप्रीमो मायावती के समर्थन में उतरा विपक्ष

मायावती ने राज्यसभा में सहारनपुर मामले का मुद्दा उठाया. मायावती ने कहा कि पूरे देश में जहां पर भी बीजेपी की सरकार है वहां पर दलितों पर अत्याचार हो रहा है. सहारनपुर की हिंसा साजिश की तहत की गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नाराज़गी में सदन से वॉकआउट करने वाली बीएसपी सुप्रीमो मायावती के समर्थन में उतरा विपक्ष

फाइल फोटो

खास बातें

  1. आज सदन में मायावती ने उठाया सहारनपुर का मुद्दा
  2. उपसभापति ने नहीं दी बात रखने की इजाजत
  3. नाराज मायावती ने दे डाली इस्तीफे की धमकी
नई दिल्ली: संसद के मॉनसून सत्र के दौरान बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती काफी नाराज हो गईं. वह यूपी के सहारनपुर में हुई हिंसा का मुद्दा उठाना चाहती थीं. राज्यसभा में मायावती ने केंद्र की मोदी सरकार और यूपी की योगी सरकार पर जमकर हमला बोला. मायावती ने राज्यसभा में सहारनपुर मामले का मुद्दा उठाया. मायावती ने कहा कि पूरे देश में जहां पर भी बीजेपी की सरकार है वहां पर दलितों पर अत्याचार हो रहा है. सहारनपुर की हिंसा साजिश की तहत की गई.

मायावती इस दौरान राज्यसभा के उपसभापति पीजे कुरियन पर भड़क गईं. यह मुद्दा उठाने की इजाजत नहीं दिए जाने से वह इतनी नाराज़ हो गईं कि उन्होंने सदन में ही इस्तीफा देने की धमकी तक डे डाली. बाद में उन्होंने सदन से बाहर आकर इस्तीफा देने की बात कही. वैसे अभी तक उन्होंने लिखित में राज्यसभा के उपसभापति को इस्तीफा नहीं दिया है. लेकिन नाराज मायावती जैसे ही सदन से बाहर गईं कांग्रेस पार्टी के सदस्यों ने भी सदन से वॉक आउट कर दिया. 

मायावती के समर्थन में कांग्रेस पार्टी के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि देश में दलितों, किसानों  और अल्पसंख्यकों पर अत्याचार हो रहा है. उन्हें बोलने नहीं दिया जा रहा है और न ही विपक्षी दलों को बोलने दिया जा रहा है. 

इस मौके के बाद मायावती पर हमला करते हुए बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि मायावती ने उपसभापति का अपमान किया है और उन्हें इसके लिए माफी मांगनी चाहिए. इस पूरे मामले पर कांग्रेस के अलावा लेफ्ट के नेताओं ने भी मायावती का साथ दिया. 

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement