NIA का खुलासा: भारत में नकली नोट भेज कर रही है ISI और D-कंपनी, सप्लाई के लिए खोजा नया रास्ता

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की जांच से खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान स्थित आईएसआई और डी-कंपनी की सांठगांठ से देश में नकली नोटों की आपूर्ति दोबारा शुरू हो गई है.

NIA का खुलासा: भारत में नकली नोट भेज कर रही है ISI और D-कंपनी, सप्लाई के लिए खोजा नया रास्ता

नकली नोटों का कारोबार करने वाले गिरोह के सरगना यूनुस अंसारी की नेपाल में गिरफ्तारी के बाद इस सांठगांठ से परदा हटा

नई दिल्ली:

नकली नोटों की देश में आमद पर पिछले दिनों विराम लग गया था, लेकिन अब फिर भारत के पूर्वी सीमावर्ती क्षेत्रों में भारी पैमाने पर इसकी आमद होने लगी है. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की जांच से खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान स्थित आईएसआई और डी-कंपनी की सांठगांठ से देश में नकली नोटों की आपूर्ति दोबारा शुरू हो गई है. नकली नोटों का कारोबार करने वाले गिरोह के सरगना यूनुस अंसारी की नेपाल में गिरफ्तारी के बाद इस सांठगांठ से परदा हटा. भारतीय खुफिया एजेंसियों से मिली जानकारी के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया.

भारतीय अधिकारियों के अनुसार, ऐसा माना जाता है कि अंसारी का आईएसआई और दाउद इब्राहिम से करीबी संबंध है और वह नकली नोटों का कारोबार करने वाले गिरोह का सबसे बड़ा खिलाड़ी है. अंसारी के साथ-साथ तीन पाकिस्तानी नागरिकों को गिरफ्तार किया गया, जिनकी पहचान मुहम्मद अख्तर, नादिया अनवर और नसीरुद्दीन के रूप में की गई. 

CIC का RBI को आदेश: नोटबंदी के बाद 500 और 2000 रुपये के नोटों की छपाई के आंकड़े करे सार्वजनिक

एक अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तारी के वक्त अंसारी और उसके सहयोगियों के पास से सात करोड़ रुपये मूल्य के नकली नोट बरामद हुए. अंसारी की गिरफ्तारी से यह भी पता चला कि भारत में नकली नोट भरने का जरिया अब नेपाल नहीं रहा, बल्कि अब बांग्लादेश से लगती भारत की पूर्वी सीमा के रास्ते नकली नोट आ रहे हैं. गौरतलब है कि पाकिस्तान पहले भारत में नकली नोट भेजने के लिए नेपाल के रास्ते का उपयोग करता था. यह बात एनआईए की जांच में सामने आई है. 

नकली नोटों की बड़ी खेप के साथ दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा शख्स, पाकिस्तान में छपे हैं नोट

हाल ही में पश्चिम बंगाल के एक आदमी को 10 लाख रुपये मूल्य के नकली नोटों के साथ आनंद विहार रेलवे स्टेशन से दबोचा गया. पूछताछ के दौरान आरोपी ने इस बात का खुलासा किया कि नकली नोट बांग्लादेश में छापे गए थे और उसे राष्ट्रीय राजधानी के व्यस्त बाजारों व दुकानों में खपाने की योजना थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

महाराष्ट्र के सतारा में नकली नोट छापने के आरोप में छह गिरफ्तार

Video: जीडीपी के आंकड़ों पर क्‍या कहते हैं सांख्‍य‍िकी सचिव प्रवीण श्रीवास्‍तव



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)