NDTV Khabar

भारतीय पायलट अभिनंदन को रिहा करेगा पाकिस्तान, पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने किया ऐलान

भारतीय पायलट विंग कमांडर अभिनंदन (IAF Pilot Abhinandan) को छोड़ने के लिए पाकिस्तान तैयार हो गया है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने कहा कि अभिनंनद वर्धमान (Abhinandan Varthaman) को शुक्रवार को रिहा किया जाएगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. भारतीय पायलट अभिनंदन कल होंगे रिहा
  2. पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने की घोषणा
  3. शांति के कदम के तौर पर उठाया गया कदम
नई दिल्ली:

भारतीय पायलट विंग कमांडर अभिनंदन (IAF Pilot Abhinandan) को छोड़ने के लिए पाकिस्तान तैयार हो गया है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने वहां की संसद में यह बात कही है. इमरान खान (Imran Khan) ने कहा कि पाकिस्तान शुक्रवार को भारतीय पायलट अभिनंदन वर्धमान (Abhinandan Varthaman) को रिहा करेगा. इमरान खान ने कहा कि शांति के कदम के तौर पर पायलट की रिहाई का कदम उठाया गया है. इमरान खान ने कहा, 'मैं घोषणा करता हूं कि बातचीत शुरू करने के लिए पहले कदम के तौर पर, पाकिस्तान हिरासत में लिए गए भारतीय वायुसेना के अधिकारी को कल (शुक्रवार) रिहा कर रहा है.' पाकिस्तानी सांसदों ने मेजें थपथपा कर उनकी इस घोषणा का स्वागत किया. इमरान खान ने कहा कि हमारी कार्रवाई का एकमात्र मकसद हमारी क्षमता और इच्छा का प्रदर्शन करना था. हम भारत में कोई नुकसान नहीं चाहते थे, क्योंकि हम जिम्मेदार तरीके से कार्य करना चाहते हैं.

इमरान खान के इस ऐलान से महज घंटे भर पहले विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि पाक प्रधानमंत्री भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव दूर करने के लिए भारतीय PM नरेंद्र मोदी से बातचीत करने को तैयार हैं. बता दें कि आज भारत ने पाकिस्‍तान को यह साफ कर दिया था कि विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी को लेकर कोई डील नहीं होगी. 


यह भी पढ़ें : पाक में कैद भारतीय पायलट पर NDTV से यह बोले कारगिल के हीरो कैप्टन नचिकेता

इससे पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी कहा था कि यदि भारतीय वायुसेना के पायलट की वापसी से भारत के साथ तनाव 'कम' होता है तो पाकिस्तान इस पर विचार करने को तैयार है. नियंत्रण रेखा के पास भारत और पाकिस्तान की वायु सेनाओं के बीच भीषण संघर्ष के बाद पाकिस्तान ने भारतीय विंग कमांडर को उस समय हिरासत में ले लिया था जब उनका मिग 21 लड़ाकू विमान गिर गया था. इसके एक दिन बाद पाकिस्तान का यह बयान आया है. उधर, भारत और पाकिस्तान के बीच कायम तनातनी के बीच पाक की कैद में भारतीय पायलट के मामले में भारत ने पाकिस्तान को स्पष्ट शब्दों में कहा कि हमें पायलट की तुरंत वापसी चाहिए.

v4tia6q8

विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को पाकिस्तान रिहा करेगा. 

यह भी पढ़ें :भारत ने पाक में जैश के आतंकी कैपों पर की बमबारी, मिराज ने किया 300 आतंकियों का सफाया, 24 घंटे की 24 बड़ी बातें

बता दें कि पाकिस्‍तान की ओर से बातचीत की पेशकश पर भरत की ओर से यह कहा गया था कि पाकिस्‍तान पहले कार्रवाई करे और पुख्‍ता सबूत पेश करे तभी बातचीत की कोई गुंजाइश बन सकती है. इन सब के बीच यह भी खबर आई कि पाकिस्‍तान के 24 लड़ाकू विमान भारत की सीमा में 10 किलोमीटर अंदर तक दाखिल हो गए थे जिन्‍हें भारतीय वायुसेना के 8 विमानों ने खदेड़ दिया.

यह भी पढ़ें: अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप का बड़ा बयान: हमारे पास भारत और पाकिस्तान से काफी अच्छी ख़बर

27 फरवरी को भारत और पाकिस्‍तान दोनों तरफ जवाबी कार्रवाई को लेकर खबरें जोरों पर रहीं. पाकिस्‍तान ने एलओसी इलाके में अपने लड़ाकू विमान से घुसपैठ की कोशिश की जिसे भारतीय वायु सेना ने नाकाम कर दिया. पाकिस्‍तानी विमान का मलबा पाक अधिकृत कश्‍मीर में मिला. इस दौरान भारतीय वायुसेना को एक मिग विमान का नुकसान हो गया. भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने कहा कि हमारा एक पायलट लापता है. बाद में उसके पाकिस्‍तान में बंधक बनाए जाने की सूचना मिली. भरत ने पाकिस्‍तान के अधिकारियों को तलब किया और पाकिस्‍तान में कैद पायलट को सुरक्षित वापस करने को कहा.

यह भी पढ़ें: भारत ने पाकिस्तान के जिस F-16 को मार गिराया, उसका POK में मिला मलबा : सूत्र

इस बीच पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत के साथ फिर से बातचीत का राग अलापा. पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री ने कहा कि जंग हुई तो यह किसी के काबू में नहीं रहेगी. इमरान खान ने कहा कि हम भारत को बातचीत के लिए आ‍मंत्रित करते हैं. 

यह भी पढ़ें: भारत ने पाकिस्तान को भेजा डिमार्श और डोजियर, जानिए इनके बारे में सबकुछ

टिप्पणियां

27 फरवरी की शाम में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना प्रमुखों के साथ तकरीबन एक घंटे बात की. साथ में राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी उपस्‍थ‍ित थे. इससे पहले 14 फरवरी को पुलवामा में हुए एक आत्‍मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. हमले की जिम्‍मेदारी पाकिस्‍तान स्‍थ‍ित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद ने ली थी. भारत ने इसके अगले दिन ही सेना को खुली छूट देने की बात कही थी और पाकिस्‍तान से 'मोस्‍ट फेवर्ड नेशन (MFN)' दर्जा वापस ले लिया था. इसके बाद घाटी में हुए सर्च ऑपरेशन में जैश के कई आतंकवादी मारे गए थे. 26 फरवरी की रात में वायु सेना ने अपनी असैन्‍य कार्रवाई में पाकिस्‍तान के बालाकोट स्‍थ‍ित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के कैंप को ध्‍वस्‍त कर दिया था. भारत की इस कार्रवाई का पूरी दुनिया ने समर्थन किया.

VIDEO: भारतीय सेना के लिए कुछ भी संभव: जेटली



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement